घर पर इश्तेहार लगाने के लिए कोर्ट पहुंची पुलिस, आगे कुर्की भी होगी

0
70

पटना(ब्यूरो)- गिरफ्तारी के डर से फरार चल रहे पटना सदर के डीसीएलआर कुमार मिथिलेश करोड़ों रुपए के संपत्ति के मालिक हैं| गवर्नमेंट जॉब की सैलरी फिक्स्ड होती है| फिक्स्ड सैलरी के जॉब में कुमार मिथिलेश अकूत संपत्ति का मालिक कैसे बन बैठा? इसकी जांच की जा रही है| एसएसपी मनु महाराज के निर्देश पर पटना पुलिस की टीम ने फरार डीसीएलआर के नाम से बनाई गई चल-अचल संपत्ति को खंगालना शुरू कर दिया है|

फिलहाल दरभंगा, शेखपुरा, पटना और दिल्ली में खरीदी गई संपत्ति का डिटेल्स पुलिस को मिल गया है| जिसकी कीमत करोड़ों में आकी जा रही है| दरभंगा में इसने जमीन खरीद रखी है| शेखपुरा जिला में भी इसके नाम पर ही संपत्ति है| जबकि पटना में एक जगह पर 6 कट्ठे का प्लॉट और जगदेव पथ में एक फ्लैट अपने नाम से खरीद रखा है| इसके अलावे दिल्ली के उत्तम नगर में एक आलिशान अपार्टमेंट के एक फ्लैट का भी वो मालिक है|

जब्त होगी संपत्ति
एक-एक कर जिस तरीके से डीसीएलआर कुमार मिथिलेश की संपत्ति की डिटेल्स सामने आ रही है, उसे जान जांच अधिकारियों के भी होश उड़ गए हैं| सूत्रों की मानें तो छोटे-बड़े कई शहरों में इसकी संपत्ति अब भी है| जिसका डिटेल खंगाला जा रहा है| जल्द ही इसके बैंक अकाउंट्स को भी चेक किया जाएगा| मामला अब आय से अधिक की संपत्ति का भी बन सकता है| इस बात की संभावना अधिक बन गई है कि जल्द ही पटना पुलिस संपत्ति को जब्त करने के लिए इकॉनोमिक ऑफेंस यूनिट (EOU) को लिख सकती है|

कोर्ट में की अपील
दूसरी ओर फरार चल रहे डीसीएलआर पर शिकंजा कसने के लिए सोमवार को पटना पुलिस की एक टीम कोर्ट पहुंची| टीम ने कोर्ट से कुमार मिथिलेश के खिलाफ इश्तेहार जारी करने के लिए ऑर्डर देने की अपील की है| कोर्ट का ऑर्डर मिलते ही कुमार मिथिलेश के घर पर इश्तेहार चस्पा कर दिया जाएगा| अगर इश्तेहार चस्पा जाने के बाद कुमार मिथिलेश ने सरेंडर नहीं किया तो पुलिस उनकी संपत्ति को कुर्क करने की तैयारी में जुट जाएगी|

रिमांड पर लेने की तैयारी
ये पूरा मामला कंकड़बाग में सरकारी जमीन को गलत तरीके से बेचने का है| जिसका एफआईआर पत्रकार नगर थाने में दर्ज है| जेल में बंद पटना सदर के सीओ रहे शमीम अख्तर मजहरी और फरारी के बाद हाल में ही कोर्ट में सरेंडर करने वाले दानापुर के देवेन्द्र को पुलिस रिमांड पर लेगी| देवेन्द्र ने ही डीसीएलआर के साथ मिली भगत कर सरकारी जमीन को गलत तरीके से खरीदा था| अब पुलिस एक-एक कर दोनों को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी| इनके रिमांड के लिए भी कोर्ट में अपील कर दी गई है|

एसएसपी ने कहा
इस पूरे मामले पर पटना के एसएसपी मनु महाराज का कहना है कि कुमार मिथिलेश की कई जगहों पर संपत्ति है| जो उनके नाम पर ही है| सबको खंगाला जा रहा है| जेल में बंद सीओ और देवेन्द्र को रिमांड पर लेने के लिए कोर्ट में अर्जी दे दी गई है|

रिपोर्ट-कुमार आशुतोष

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY