पुजारी ने पुलिस अधीक्षक व पुलिस उपमहानिरीक्षक झांसी के साथ मुख्यमंत्री को पत्र भेजा

जालौन(ब्यूरो) अब तक कोई कार्यवाही नहीं हुई मंदिर के पुजारी पर जानलेवा हमले के आरोपियों पर पुलिस अधीक्षक व पुलिस उपमहानिरीक्षक झांसी के साथ मुख्यमंत्री को पत्र भेजा पुजारी ने

प्राचीन श्रीराम जानकी लक्ष्मण मन्दिर कुठौंदा में स्थापित अष्ठ धातु की मूर्तियों की सुरक्षा व मंदिर के पुजारी पर जानलेवा हमला के आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही किये जाने के लिये पुजारी ने पुलिस अधीक्षक व पुलिस उपमहानिरीक्षक झांसी के साथ मुख्यमंत्री को पत्र भेजा।

अमृतशरण शाला सरकार मंदिर कुठौन्दा थाना रेढर के पुजारी ने एक शिकायती पत्र मुख्यमंत्री, उप महानिरीक्षक, पुलिस अधीक्षक, को भेजा। जिसमें शिकायत की है कि 23 जून 17 को सांय 7 बजे मंदिर में पूजा में व्यवधान डालते हुये। गांव के घसीटे पुत्र रामभरोसे जाटव, गवडू पुत्र रामभरोसे, पुच्चे ने शराब पीकर गाली गलौंच की व मंदिर में स्थित अष्ठ-धातु की श्री रामजानकी लक्ष्मण की मूर्तियों को उखाडने व खंडित करने का प्रयास किया। जब पुजारी ने इसका विरोध किया तो सभी लोगों ने एक जुट होकर पुजारी को मरणासन्न कर छोडकर भाग गये।

पुजारी के साथ हुयी मारपीट व जानलेवा हमला के साथ मंदिर की अष्ठ-धातु की मूर्ति को खंडित किये जाने के मामले में पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की उल्टा पुजारी को हड़का कर जबरन समझौता लिखवा लेने तथा समझौता न करने पर झूठे मुकद्मे में फसा देने की धमकी से परेशान न्याय पाने के लिये दर-दर भटक रहा है। पुजारी ने पुलिस के उच्चाधिकारियों व मुख्मंत्री को पत्र भेजकर मामले की जांच कराकर आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही किये जाने व मंदिर में स्थापित अष्ठ धातुओं की मूर्तियों की सुरक्षा किये जाने की गुहार लगायी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here