जहरीले पामोलिव नामक तेल को बदल कर सरसो के तेल के रूप मे कर रहे है बिक्री

0
63

बांगरमऊ/उन्नाव(ब्यूरो)- नगर की करीब आधा सैकडा दूकानो पर मिलावटी सरसो का तेल धडल्ले से बेचा जा रहा है । कई धन्धे बाज तो जहरीले पामोलिव नामक तेल को बदल कर सरसो के तेल के रूप मे भी बिक्री कर रहे है ।

इस बनावटी तेल के प्रयोग से लोग लीवर, किडनी व चर्म रोग आदि जान लेवा बीमारियो की गिरफ्त में है । खाध्य विभाग इन कालाबाजारियो पर नकेल कस पाने में नाकाम साबित हो रहा है ।

नगर के हरदोई उन्नाव मार्ग, सन्डीला मार्ग व नौनिहाल गंज बाजार की लगभग आधा सैकडा खाद्य सामग्री की दुकानो पर मिलावटी एवं बनावटी सरसो का तेल धडल्ले से बिक रहा है । इस तेल के दाम शुद्ध सरसो के तेल से काफी कम होने के कारण अधिकांश करीब इसी मिलावटी तेल और बनावटी तेल का स्तेमाल कर रहे है ।

इन दिनो नगर में बिचित्र बुखार का रोग तो फैला ही है । साथ ही इस मिलावटी तेल एवं नकली सरसो के तेल के सेवन से चर्म रोग, किडनी एवं लीवर रोग के मरीजो की सख्या भी लगातार बढती जा रही है । नगर में कानपुर महानगर से रोजाना ही एक दो टैंकर नकली एवं मिलावटी तेल के यहां आते है । और यहां की दूकानो पर बेच कर चले जाते है ।

खाद्य विभाग इस स्थित को जानते हुए भी अंजान बना हुआ है । चर्चाये यह है कि इस अवैध कारोबार को चलाने वाले लोगो की सम्बन्धित अधिकारियो से सीधी साठ गांठ है । जिसके कारण वह अपनी आँखे बंद किये रहते हैं और एक निर्धारित शुल्क प्रति माह इन दुकानों से उनको मिलता रहता है ।

एक बड़े व्यापारी के यहां गत वर्ष उपजिलाधिकारी इंद्र सेन यादव ने छापा मारकर सरसों तेल के कई नमूने संकलित किए थे किंतु उन नमूनों में क्या निकला यह आज तक किसी व्यापारी अथवा क्षेत्र के नागरिक की जानकारी में नहीं आ सका है ।

इस संबंध में नगर के खाद्य निरीक्षक नरेंद्र कुमार ने बताया कि समय समय पर खाद्य सामग्री के नमूने संकलित किए जाते हैं और जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्यवाही भी की जाती है।

रिपोर्ट-रामजी गुप्ता

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY