दूसरे चरण की मॉक ड्रिल पौड़ी और हरिद्वार में

0
172

उत्तराखंड(ब्यूरो)– उत्तराखंड में भूकंप आने पर बचाव और राहत कार्य के लिए बुधवार को दूसरे चरण की माकड्रिल हरिद्वार और पौड़ी जिले में हुई। मॉकड्रिल के तहत प्रशासन की ओर से भूकंप की सूचना फ्लैश होने के बाद आपदा प्रबंधन तंत्र हरकत में आ गया है जिसके चलते हरिद्वार से लेकर पौड़ी तक हलचल मच गई।बता दें कि बीते दिनों ही उत्तराखंड में भूकंप आया था। आगे भी भूकंप आने की आशंका जतायी जा रही हैं।

भविष्य में भूकंप जैसी स्थिति आने पर कैसे निपटा जाए-

भविष्य में भूकंप जैसी स्थिति आने पर कैसे निपटा जाएगा, उसके लिए प्रशासन की अगुवाई में मॉकड्रिल की जा रही है।मंगलवार को भी चमोली, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, देहरादून आदि जिलों में भूकंप की मॉकड्रिल हुई। जबकि बुधवार को हरिद्वार, पौड़ी आदि जिलों में मॉकड्रिल हुई। मॉकड्रिल के तहत बुधवार सुबह करीब 10 बजे भूकंप आया। इसकी तीव्रता 7.2 बताई गई।

भूकंप की इस सूचना कंट्रोल रूम सतर्क-

भूकंप के चलते नुकसान वाले स्थानों पर टीमें रवाना की गईं, जो राहत और बचाव कार्य में जुट गईं। भूकंप की इस सूचना कंट्रोल रूम सतर्क हो गया। घायलों को अस्पताल पहुंचाने, मलबे से लोगों को निकालने जैसे बचाव और राहत कार्य मॉकड्रिल में किए जा रहे हैं। पौड़ी मंडल मुख्यालय से राहत और बचाव दल की पांच टीमें रवाना की गईं है। हरिद्वार में भी इस घटना से अधिकारी हरकत में नजर आए। जिला प्रशासन के नेतृत्व में पुलिस की टीमें अलग-अलग जगहों पर मॉकड्रिल कर रही हैं।

पौड़ी में प्रशासन की टीमों की हरकत से घबराए लोग-

पौड़ी में सुबह सुबह गाड़ियां और प्रशासन की टीमों की हरकत से लोग घबरा गए। बाजार में तरह-तरह की चर्चाएं होने लगी, कुछ लोगों ने तो भूकंप की अफवाह भी फैला दी। इसके बाद प्रशासन को लोगों को मॉकड्रिल की जानकारी देने पड़ी और लोगों को संयम बरतने के लिए कहा गया।
रिपोर्ट- मो. शादाब

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here