स्वयं ही बयां कर रही है, गुणवत्ताविहीन कार्य भ्रष्टाचार की कहानी, महज एक माह में ही टूटी नाली

रायबरेली(ब्यूरो)- ऊंचाहार नगर पंचायत में गुंणवत्ता विहीन कार्य कराने का मामला प्रकाश में आया है। आलम यह है कि कार्य को कराये हुए अभी एक महीना भी नही बीता है कि बनाई गई नाली जगह जगह टूटकर बह गई। यही नही नगर के अन्र्तगत लगाया गया इण्टर लाकिंग भी गुणवत्ता बिहीन कार्य भ्रष्टाचार की कहानी स्वयं ही बयां कर रहा है।

नगर के वार्ड नम्बर पांच अकोढ़िया मार्ग पर डा. राजकुमार मिश्रा के मकान से होकर हिमांशु यादव के मकान तक बनाई गई नाली व इण्टरलाकिग रोड 340 मीटर का निर्माण नगर पंचायत में ब्याप्त भ्रष्टाचार की भेट चढ़ गया। कमीशनखोरी व दबंगई के चलते गुणवत्ता विहीन कार्य का यह आलम है यह है कि जहां इण्टर लाकिग जगह जगह से बैठ गया और इण्टर लाकिग ईट जगह जगह से टूट गया है। वही नाली का यह आलम है कि नालियों में पानी बह नही रहा है बल्कि जगह जगह पानी रूका रहता है लोगों का कहना है कि मानक के विपरीत नाली में ढलान का ध्यान नही दिया गया और ऊची नीची नाली बनाई गई है जिससे पानी भरा रहता है।

वार्ड निवासी विश्व हिन्दू परिखद के नगर अध्यक्ष मुन्ना तिवारी ने बताया कि नाली जगह जगह से टूटी है इण्टर लाकिग में खराब ईटों का प्रयोग हुआ है पानी का बहाव न होने से पानी लगातार नाली में पानी भरा रहता है जिसके चलते सक्रामक बीमारी फैलने का भय बना रहता है। उन्होनें कहाकि इसकी जांच कराकर देषियों के खिलाफ कार्यवाही की जाये। इस बावत अधिशाषी अधिकारी से बात करने का प्रयास किया गया परन्तु उनका फोन नही उठ सका। वही नगर अध्यक्ष प्रमोद गुप्ता ने बताया कि यह कार्य एक महीने पूर्व ही कार्यदायी संस्था द्वारा कराया गया है। उस समय जेई आशुतोष गुप्ता ने धटिया निर्माण पर नाराजगी ब्यक्त करते हुए कार्य रूकवा दिया गया था। भुगतान के सम्बन्ध में जानकारी करने पर उन्होने बताया कि मामला संज्ञान में आने पर मेरे द्वारा भुगतान नही किया गया है। और जनता की समस्याओं को देखते हुए इस मामले से नगर विकास मंत्री को अवगत कराया जायेगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here