सड़क पर उतरे SDM, चेकिंग अभियान से दोपहिया वाहन चालकों में मचा हड़कम्प

0
49
प्रतीकात्मक

मैनपुरी(ब्यूरो)- गुरूवार को पारा सातवें आसमान पर था, गर्म हवायें शरीर को जला रही थी लेकिन लू के थपेड़े भी एसडीएम सदर के हौसला को डिगा नहीं पाये। न गर्मी की चिन्ता और न ही पसीने से तरबरत शरीर की फिक्र। एसडीएम की अगुवाई में जिन्दगी बचाने के लिये पुलिस ने दोपहिया वाहनों की सघन चैकिंग चलाई। एसडीएम बाइकें रोकने के लिए स्वयं ही सड़क पर उतर पड़े।

इस चैंकिंग अभियान से दोपहिया वाहन चालकों में हड़कम्प मच गया। पुलिस ने आधा सैकड़ा से अधिक बाइकों को पकड़ा जिनके चालकों पर हैलमेट नहीं था। पुलिस ने इन्हें हिदायत दी और चालान भी काटे। बताते चले कि 8 मई से जिला प्रशासन ने दोपहिया वाहन सवारों के लिये हैलमेट लागू कर दिया हैं। जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक के निर्देश में एसडीएम सदर, शहर कोतवाल लक्ष्मण सिंह भारी पुलिस बल के साथ कोतवाली के ठीक सामने वाहन चैकिंग के लिये उतर पड़े। एसडीएम ने इस भीषण गर्मी को पीछे छोडते हुए वाइक सवारों को पकड़ा। कोतवाली पुलिस ने भी एसडीएम का पूरा सहयोग किया। एसडीएम ने बाइक सवारों को चेतावनी दी कि सफर में जरा सी लापरवाही हादसे का शिकार बना देती है। सड़क दुर्घटना में 95 फीसदी लोगों की मौत हैड इंज्युरी से हो जाती है। अपनी जिंदगी बचाने और परिवार की खुशियों के लिये हैलमेट जरूर पहने।

पुलिस की इस कार्यवाही से दोपहिया वाहन चालकों में हड़कम्प मच गया। वे कचहरी रोड़ को छोडकर गली मोहल्लोें की गलियों से होकर भागने लगे। पुलिस ने इस चैकिंग अभियान के दौरान आधा सैंकड़ा से अधिक उन बाइक सवारों को पकड़ा जिनके पास हैलमेट नहीं था। पुलिस ने हैलमेट न होने पर इनके चालान काटे। एसडीएम ने हिदायत दी कि आगे से हैलमेट पहनकर चलें। आप जब तक घर नही पहुचे है तब तक आपका कोई वेसवरी से इंतजार कर रहा होता है। दुर्घटना से बचने के लिये हैलमेट पहनना बहुत जरूरी है।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY