कोतवाली से सौ मीटर दूरी पर हुई चोरी की वारदात, लोगों ने किया सड़क जाम

0
139

हसनगंज/उन्नाव(ब्यूरो)- कस्बा हसनगंज मे कोतवाली से सौ मीटर दूरी पर में एक बार फिर बीती रात मे चोरो ने लखनऊ बांगरमऊ रोड पर चोरी कर कोतवाली पुलिस को खुलीं चुनौती दे डाली| पुलिस रात्रि गशत के नाम पर बैरको मे खर्राटे भर कर सोती रही| रातो दिन चलने वाले मुख्य लखनऊ बांगरमऊ रोड पर स्थित मोबाइल दुकान का सटर तोड़ कर चोर धमा चौकडी मचाते रहे, बगल के पडोसियो ने शोर मचाने पर चोर मोबाइलो के डिब्बे व थैला छोड कर भागने मे सफल हो गये, लेकिन चोर को दौड़ाते समय पडोसी युवक नीरज गुप्ता घायल हो गया| घटना स्थल से कोतवाली की दूरी महज 100 मीटर ही होगी, पुलिस की कार्यशैली से नाराज व्यापारियों व ग्रामीणो ने लखनऊ बांगरमऊ रोड जाम कर दिया| कोतवाली निरीक्षक मौके पर पहुंच कर ग्रामीणो को कार्यवाही करने भरोशा देकर समझा बुझा कर जाम खुलवाया।

हसनगंज कस्बे के लखनऊ बांगरमऊ रोड पर स्थित कोतवाली मोड़ चौराहे पर हसनगंज के सुरेश पुत्र सुरजबली की मोबाइल की दुकान है| रोज की तरह देर शाम सुरेश दुकान बंद कर अपने घर चला गया| देर रात करीब एक बजे दुकान के सामने बने मकान में रह रहे संजय गुप्ता को कुछ आवाज मिली, जिस पर उन्होंने खिड़की से देखा कि मोबाइल की दुकान के अंदर की आवाज आयी| पैर से कमजोर होने के कारण उन्होंने अपने पड़ोसी नीरज गुप्ता को बात बताई, जिस पर उक्त लोगो ने 100 नं. मिलाया लेकिन कोई बात न हो सकी| जिस पर नीरज ने नीचे उतर कर देखा तब पडोसियो ने शोर मचाकर चोरो को दौड़ा कर पकड़ने की कोशिश की लेकिन तब तक मोटरसाइकिल सवार विपरीत दिशा भाग गए| जिसको दौड़ाने के चक्कर मे युवक नीरज रोड पर फिसल कर गिरने से घायल हो गया| तब तक चोर भाग चुके थे और मोहल्ले के और लोग भी एकत्रित हो गए और पुलिस को सूचना दी लेकिन काफी समय बीतने के बाद भी पुलिस घटनास्थल पर न पहुच सकी| जिससे ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया और सुबह होते ही व्यापार मंडल के अध्यक्ष मनोज गुप्ता के नेतृत्व में व्यापारियों ने कस्बे की दुकाने बन्द करा लखनऊ बांगरमऊ रोड को जाम कर दिया|

बताते चले कि विगत 5 अप्रैल को व्यापार मंडल के अध्यक्ष मनोज गुप्ता की सैंट्रो कार चोरो ने उनके दरवाजे से पार कर दी थी, जिसका आज तक कोई पता न चल सका है| बीती घटना को देखते हुए व्यापारियों ने जाम लगा कर पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए। प्रत्क्षयदर्शी की माने तो जब चोरी हो रही थी, तब डायल 100 की एक पिकेट भी गुजरी थी लेकिन बाइक सवार युवकों से कोई पूछताछ करने की हिम्मत नही पडी और तेज रफ्तार मे बिना सायरन बजाये ही चली गई| जिस स्थान पर चोरी हुई ठीक उसी के सामने पुलिस की रात्रि गश्त टीम भी बैठती है लेकिन बीती रात घटना के दिन कोई भी गस्त डियूटी पर नही था| इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि एसपी, आईजी डीआई व डीजीपी के आदेशो का कितना अनुपालन कराया जा सकता है जिससे चोरो ने बेख़ौफ़ होकर चौराहे पर स्थित दुकान का सटर काट कर पुलिस को चुनौती दे दी। जाम लगने की स्थिति पर कोतवाल हनुमान प्रसाद पांडेय व SSI विश्वदेव सिंह पुलिसबल के साथ पहुचे और जाम खुलवाने की कोशिश की लेकिन व्यापारियों के आक्रोश के आगे एक न चली|बाद में कोतवाली निरीक्षक के द्वारा गस्त में लगे लोगो पर कार्यवाही करने व कस्बे में अतिरिक्त सुरक्षा देने के अस्वाशन पर जाम खुल सका।

बताते चले कि 5 अप्रैल की बीती रात मे व्यापार मंडल अध्यक्ष की सैंट्रो कार चोरो ने लाक तोडकर पार कर दिया था| जिस पर ग्रामीणो के आक्रोश के चलते सीओ स्वतंत्र सिंन्ह व निवर्तमान कोतवाली प्रभारी भूपेंद्र राठी ने कस्बे में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने व चोरी का खुलासा करने का अस्वाशन दिया था बाद में कोतवाल एक महीने मे ही मनचाहे थाने मे टा्ंसफर करा कर चले गये । तब से अपने को तेज तर्रार बताने वाले सीओ ने कार की चोरी को ठंडे मे डाल दिया। जिसका नतीजा ये है कि आज तक चोरी का खुलासा न हो सका और पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था आज की घटना ने प्रश्न चिन्ह लगा दिया है। योगी सरकार मे कानून का राज होगा लेकिन खाकीधारी कार्यालयो व बैरको मे बैठकर मलाई काट रहे है और आला अधिकारियों के आदेश निर्देश हवा हवाई साबित हो रहे है।

रिपोर्ट- राहुल राठौर 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here