ठेकेदार के मजदूरों की लापरवाही के चलते रेलकोच कर्मचारियों ने काटा हंगामा

0
111

लालगंज/रायबरेली (ब्यूरो)- रेल कोच कारखाने मे ठेकेदार के मजदूरों के द्वारा लापरवाहीपूर्वक किये जाने कार्यों के प्रति नाराजगी जताते हुये फिनिसिंग शाप के तीन सौ कर्मचारियों ने शुक्रवार को प्रथम पाली मे धरना प्रदर्शन कर जोरदार आक्रोश व्यक्त किया है। धरना प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे मेन्स यूनियन के नेता रितुराज शुक्ला ने कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुये रेलकोच प्रसासन को आडे हाथों लिया है।

छह सूत्रीय मांग पत्र देते हुये कर्मचारी यूनियनों के द्वारा रेलकोच प्रसासन को चार दिन का समय दिया गया है। अपनी मांगो मे रेलकोच यूनियन ने ठेकेदारी प्रथा समाप्त किये जाने की मांग जोरदार तरीके से उठायी गयी है। कर्मचारियों ने कार्य सिस्टम से कराये जाने की मांग की है। कोच मे टेस्टिंग के पहले ही इलेक्ट्रिकल व मैकेनिकल कार्य पूर्ण किये जाने की बात कर्मचारियो के द्वारा उठायी गयी है। ठेकेदार के मजदूरों के लिये भी कारखाना एक्ट के तहत जरूरी तकनीकी जानकारी होने की मांग कर्मचारी नेताओं के द्वारा की गयी है।

अनट्रेन्ड मजदूरों से कोच निर्माण कराये जाने पर कर्मचारी नेताओं ने नाराजगी व्यक्त की है। ठेकेदार के लेबरों व रेलकोच कर्मचारियों को अलग-अलग कोच कार्य करने के लिये आवंटित किये जाने की मांग की गयी है। बताया जाता है कि धारा इन्टरप्राइजेस के मजदूरों ने कोच संख्या 17309-सी का फीडर जंक्सन बाक्स खोलकर पावर लाइन के तार बिखेर दिये थे। शुक्रवार सुबह रेलकोच के कर्मचारी ने जब टेस्टिंग के लिये 750 वोल्ट बिजली सप्लाई की तो कोच की लाइन आन नही हुयी। तब कर्मचारियों ने कोच मे जाकर देखा तो फीडर जंक्सन के तार खुले हुये थे।

कर्मचारियों की माने तो अगर खुले तार कहीं टच कर जाते तो भारी जनहानि हो सकती थी। इसी लापरवाही के मद्दे नजर रेलकोच कर्मचारियों ने जमकर हंगामा काटा। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे डिप्टी सीईई प्रदीप सिंह ने कर्मचारियों को जांच कराने की बात कहकर समझाने का प्रयास किया है। मौके पर कर्मचारी नेता नैब सिंह, तेजपाल, डीएन निर्मल, आसीश श्रीवास्तव, मनोज ओझा आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य/सुशील शुकला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here