मनरेगा के तहत आने वाली लाखों रूपये की धनराशि का कोई हिसाब नही

0
98

बीघापुर/उन्नाव(ब्यूरो)- विकास खण्ड की ग्राम सभा धानीखेड़ा में जाॅब कार्डों के माध्यम से मनरेगा व क्षेत्र पंचायत से करोड़ों रुपए के धन के बंदरबांट की शिकायत ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से की है। शिकायतकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि ग्राम प्रधान पुत्र पवन जो वर्तमान में बीटेक की पढ़ाई कर रहा है,के नाम जाॅब कार्ड बना कर लाखों रुपए का गबन किया गया है।

गांव के ही धुन्नर धोबी जो कि करोड़पति व्यक्ति है, जिसके घर में खुद नौकर चाकर काम करते हैं, उसकी बहू के नाम भी जाॅब कार्ड बना कर सरकारी धन का गबन किया गया है।  वहीं रोजगार सेवक के पिता मनबोधन यादव के नाम भी जाॅब कार्ड निर्गत है।

 

शिकायतकर्ता तेजबहादुर यादव व झल्लर आदि ने गांव में ही कोड़वा तालाब की खुदाई ग्राम सभा द्वारा ट्रैक्टर से कराए जाने की भी षिकायत की है। वहीं सूत्र बताते हैें कि इस कार्य के मास्टर रोल कार्यों की जांच हो जाने के कारण षून्य करा दिया है। सूत्र बताते हैं कि विकास खण्ड के ही किसी कर्मचारी को इस ग्राम सभा में हुए भ्रश्टाचार की जांच सौपी गई है।

बताया यह भी जाता है कि क्षेत्र के कुछ छुटभैया नेता जांच अधिकारी पर फोन कर के मामले को दबाने का दबाव भी बना रहे हैं। अब देखना होगा कि भ्रश्टाचारियों पर योगी सरकार सिकंजा कस पाती है या मामला टांयटांय फिस्स हो जाएगा।

रिपोर्ट-मनोज सिंह

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY