सवा महीने पूर्व हुई लल्लापाल की हत्या के मामले में अभी तक नहीं लगा कोई सुराग

0
51

अमेठी(ब्यूरो)- सवा महीने पूर्व हुई लल्लापाल की हत्या के मामले में पुलिस सही आरोपी का सुराग नहीं लगा सकी है। मामले में संदेेह के आधार पर आरोपी बताये गए रतीपाल ने डीजीपी समेत अन्य को पत्र भेजकर निष्पक्ष जांच कराये जाने की मांग की है।

मालूम हो कि अमेठी कोतवाली क्षेत्र में रामदयपुर-मुंशीगंज निवासी लल्ला पाल की बीते 19 मई को पेड़ से लटकी हुई लाश बरामद की गई थी। इस घटना के करीब 17 दिन बाद उसके भाई अर्जुन पाल ने रतीपाल के खिलाफ संदेह व्यक्त करते हुए मुकदमा दर्ज कराया। जबकि रतीपाल के मुताबिक उसका इस घटना से कोई सम्बन्ध ही नही है ,बल्कि लल्ला पाल सेे अपने छोटे भाई जीतलाल उर्फ छोटू के परिवारीजनों से घटना के कुछ घंटो पहले विवाद हुआ था। जिसको लेकर उसके परिवारीजनों पर ही हत्या की वारदात को लेकर शक की सुई घूम रही है।मिली जानकारी के मुताबिक अमेठी पुलिस रतीपाल को संदेह के दायरे में देखते हुए पूंछतांछ के लिए कई दिनों तक थाने पर भी बिठाये रखी,लेकिन कोई साक्ष्य उसके खिलाफ न मिलता देख उसे छोड़ दिया गया। इस संबंध में पीड़ित रतीपाल ने मुख्यमंत्री व डीजीपी समेत अन्य को पत्र भेजकर आरोप लगाया है कि लल्ला पाल का अपने परिवारीजनों से ही घटना के कुछ घण्टो पहले विवाद हुआ था,उन्ही लोगो ने उसे मारा होगा।आरोप के मुताबिक लल्ला पाल का भाई अर्जुन पाल अपने परिवार को बचाने के लिए पुलिस को गुमराह करके रतीपाल व उसके परिवार के लोगो को गलत ढंग से फंसाना चाह रहा है। पीड़ित रतीपाल ने निष्पक्ष जांच कराये जाने की मांग की है।

रिपोर्ट- दीपक मिश्रा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY