पहले जैसा चुनावी शोरगुल कहीं नहीं

0
79

करहल (मैनपुरी)। विधानसभा चुनाव प्रचार समाप्त होने में अब 5 दिन ही रह जाने के बावजूद करहल विधानसभा में किसी भी दल के बड़े नेता की चुनाव सभा का कोई कार्यक्रम फिलहाल नहीं लगा है। सभी प्रत्याशी अकेले अपने दम पर ही प्रचार अभियान को चलाए हुए हैं। सत्ताधारी समाजवादी पार्टी का तो करहल गढ़ माना जाता है लेकिन सत्ता की इस बार प्रबल दावेदारी कर रही भाजपा और बसपा की ओर से भी कोई चुनावी सभा यहां अब तक नहीं आयोजित की गई है। भाजपा और बसपा के छुटभैया नेताओ ने क्षेत्र का चक्कर लगाया है मगर किसी स्टार प्रचारक का कोई कार्यक्रम अब तक नहीं हुआ है। इस सीट पर मौजूदा विधायक व सपा प्रत्याशी सोवरन सिंह यादव को भाजपा की रमा शाक्य और बसपा के दलवीर सिंह शाक्य चुनौती दे रहे हैं। कहने को तो सीट पर 6 अन्य प्रत्याशी हैं लेकिन मुख्य टक्कर तीन प्रत्याशियों के बीच ही दिखाई दे रही है। मतदान तारीख नजदीक आने के साथ ही प्रत्याशियों का प्रचार अभियान भी तेजी पकड़ता जा रहा है लेकिन चुनावी शोरगुल अभी तक सुनाई देना शुरू नहीं हुआ है। प्रत्याशी जनसंपर्क और नुक्कड़ मीटिंगो पर ही जोर दे रह हैं। उनकी समर्थक टोलियां भी ग्रामीण इलाकों में सक्रिय हैं। पर पहले जैसी चुनावी गरमाहट किसी के भी प्रचार में नहीं दिख रही।
रिपोर्ट – दीपक शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here