बस अड्डा पर रहता है चौपहिया वाहनो का जमावाड़ा, रोडबेज बसों के रूकने के लिए नहीं रहती कोई भी जगह

0
95

कुरावली/मैनपुरी(ब्यूरो)– कस्बा के पुराने रोडबेज बस स्टैण्ड पर रोडबेज बसो के चालक बसो को रोड पर ही रोकने के लिए मजबूर है। जिसका मुख्य कारण पुराने बस स्टैण्ड पर भारी मात्रा में ओमनी वैन और अन्य चैपहिया वाहनों का खड़ा होना है। बस स्टैण्ड पर चौपहिया वाहनो के चालको की मनमानी हावी दिख रही है। इनके सामने पुलिस भी असहाय नजर आ रही है।

पिछले कुछ माह से पुराने अस्थाई रोडवेज बस स्टैण्ड पर रोडवेज बसो के चालक बसो को जीटी रोड पर ही खड़ा करके सवारियो को चढ़ाते और उतारते है। जिससे कभी जाम के हालात भी उत्पन्न हो जाते है। इस बस स्टैण्ड पर बसो के चालको को बसो को रोड से नीचे उतारने के लिए जगह ही नही मिलती है। जीटी रोड के बाद फुटपाथ पर डग्गेमारी करने बाले चौपहिया वाहनो के चालको ने अपना कब्जा जमा लिया है। जो अपने वाहनो को फुटपाथ पर खड़ा करके सवारियो का इन्तजार करते है या फिर अपने वाहन को जीटी रोड पर ही खड़ा करके सवारियो को भरते है। शादी व्याह में चलने बाली गाड़ियो के चालक भी अपने वाहन को पुराने बस स्टैण्ड पर ही खड़ा करते है। रोडवेज बस अड्डा डग्गेमार वाहनो को अड्डा बन कर रह गया है। चौपहिया वाहनो के चालको से प्रशासन ने भी कई बार निपटने की कोशिश की लेकिन कोई भी ठोस कार्रवाई न होेने से उनके हौसले बुलन्द ही बने रहे।
बस अड्डा पर पहले भी हो चुकी है घटनांए- पुराने रोडवेज बस स्टैण्ड पर जगह न होने से लगने वाले जाम से पहले भी कस्बे के लोग शिकार होते रहे है। एक बर्ष पूर्व वहां से गुजरते समय ट्रक की टक्कर लग जाने से व्यापारी मनोज जैन की मौत हो गई थी। इस घटना के तीन महीने बाद बस का इन्तजार कर रहे एक ही परिवार के तीन लोग भी घायल हो गये थे।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here