डीएम साहब ये रोड जीवन के लिए हानिकारक है

0
115


रायबरेली (ब्यूरो) सरकार लाख दावे कर डाले की रोडो का काम जल्द पूरा करें अधिकारियों को चाहे जितना भी निर्देश दे साहब अपनी ही मर्ज़ी से काम करेंगे | ऐसा ही नज़ारा रायबरेली जिले में देखने को मिल रहा है | जिले में इन दिनों सडक़ो के हाल काफी बुरे है, वह सड़क कम गड्ढ़ों में ज्यादा तब्दील हो चुकी हैं, करोड़ों की सड़कें एक बारिश का पानी भी नहीं झेल सकी हैं। कई स्थानों पर तो सडक़ पर इतने अधिक गड्ढे हो गये हैं कि वाहनों का निकलना मुश्किल हा गया है।

इसी दुख को झेल रहे ग्राम बरखापुर काम तो NHI का चल रहा है, लेकिन ये दुर्भाग्य है कि ग्रामीणों को इससे नुकसान हो रहा है, बरखापुर ग्राम में NHI द्वारा कार्य हो रहा है काम तो हो रहा है लेकिन काम करने का तरीका गलत है | सड़क पर पड़ने वाली मिट्टी को इधर-उधर डाल दिया जाता है, जिससे सड़क बारिश में कीचड़ में तब्दील हो चुकी है मिट्टी अब राहगीर जाए तो जाए कहा से मजबूरी में उन्हें उसी कीचड़ वाली रोड से गुजरना पड़ रहा है | आलम तो ये है कि लोग चोटहिल हो रहे हैं कारण बड़े वाहन निकलते समय जगह नहीं छोड़ते जिससे लोग उसी कीचड़ वाली सड़क पर जाने को मजबूर होते हैं और फिसलन के कारण दुर्घटना के शिकार हो जाते हैं | स्थानीय लोगो ने कई बार NHI के अधिकारियों को शिकायत भी की लेकिन NHI के अधिकारी केवल आकर ग्रामीणों को झूठा लॉलीपॉप थमा जाते हैं | राहगीरों को हर समय किसी हादसे की चिंता सताती रहती है|

दरअसल सडक़ निर्माण के समय NHI द्वारा मिट्टी को बीच सड़क पर ही डाल दिया गया आलम ये है कि आने जाने वाले राहगीर को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है किए गए काम की जांच नहीं होती है, काम चाहे आरईएस हो या लोकनिर्माण विभाग या nhi ही का हो सब राम भरोसे ही छोड़ देते हैं और जब निरीक्षण करने जाते हैं, अधिकारी तो वह रस्म अदायगी साबित होती है। अगर जल्द ही इसपर कोई ठोस कार्यवाही व मार्ग का दुरुस्तीकरण न हुआ तो स्थानीय लोगो ने आंदोलन करने की चेतावनी दी है |

रिपोर्ट – अनुज मौर्य

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here