रोज बर्बाद हो रहा हजारों लीटर पानी, पर बेपरवाह है नगर प्रशासन

0
110


सफीपुर-उन्नाव : उत्तर प्रदेश के नगरपंचायत की पोल खुल रही है जिस पर नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे है।जल संरक्षण अधिनियम के अन्तर्गत जहाँ लाखों रुपये खर्च किये जाते है वही विकास खंड सफीपुर क्षेत्र मेन कोतवाली चौराहा पर सालों से रोज हजारों लीटर पानी बर्बाद होता हैं।जिसको प्रशासन की नजर नहीं पङ रही है।

जल संरक्षण अधिनियम का अन्तर्गत जहाँ लाखों रुपये खर्च किये जाते है वही उन्नाव हरदोई मुख्य मार्ग के कोतवाली चौराहा पर सालों से रोज हजारों लीटर सप्लाई का पानी बर्बाद हो रहा है। खास बात तो यह है कि उसी रोड से प्रदेश ,जिले,व तहसील, थाना के आलाधिकारयों का आना जाना लगा रहता है लेकिन किसी को भी रोज हजारों लीटर पानी बर्बाद होता है जो आला अधिकारियों का आना जाना लगा रहता है फिर भी नहीं दिखाई देता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार चुनाव के दौरान टाउन एरिया सफीपुर से कुछ कर्मी उस पाइप को सही करने के लिए आये थे लेकिन मेन रोड पर गड्ढा खोदा ही था कि पीडब्लूडी के कुछ अधिकारी आ पहुंचे और यह कहकर काम रुकवा दिया की चुनाव का टाइम चल रहा है अगर कोई हादसा हुआ तो कौन जुम्मेदार होगा कहकर काम रुकवा दिया। तब से किसी ने भी उस हजारों लीटर बर्बाद हो रहे जल की चिन्ता नहीं किया जा रहा है।वही के स्थानीय दुकानदार प्रसून तिवारी ने बताया कि करीब एक साल से बह रहा निर्मल जल की सुध किसी ने नहीं ली और बताया कि मेरा मेडिकल स्टोर व बगल में क्लीनिक होने के कारण रोज कई लोग इससे चुटहिल हो रहे है।

रिपोर्ट – रामजी गुप्ता

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY