तीन दशक बाद ग्रामीणों को मिली सड़क

0
56

बलिया (ब्यूरो)- विकासखंड दुबहर के ग्राम पंचायत मोहन छपरा में बरसों से विवादित संपर्क मार्ग को वहां के ग्राम प्रधान गुड्डू पांडे ने पंचायत कर सूलह कराया और स्थानीय युवाओं की मदद से श्रमदान कर उस सड़क के निर्माण के लिए अपने हाथों में कुदाल वह फावड़ा भी उठा लिया।

ज्ञात हो कि मोहन छपरा गांव में पिछले कई वर्षों से आपसी विवाद के कारण लगभग एक हजार की आबादी में आने जाने के लिए कोई रास्ता नहीं था। वहां के ग्राम प्रधान गुड्डू पांडे ने लोगों की कई बार पंचायत आयोजित कर गांव में आने जाने के लिए रास्ता बनाने का अनुरोध किया।

प्रधान के बार-बार अनुरोध करने के बाद ग्रामीणों ने अपनी जमीन में रास्ता देने के लिए राजी हो गए। लोग अपनी पक्की दीवार रास्ता के लिए हटवाने लगे वही कुछ लोग अपना मिट्टी का दरवाजा भी राष्ट्रीय के लिए खुदवा दिया।

लोगों के इस सहयोग और उत्साह को देखते हुए मोहन छपरा के ग्रामीण हाथों में कुदाल खाची वर्मा लेकर राष्ट्रीय के निर्माण में सहयोग करने लगे ग्रामप्रधान गुड्डू पांडे भी ग्रामीणों के इस रमदान को देखते हुए कई घंटे तक इस रास्ते के निर्माण के लिए श्रमदान किया। मोहन सपरा ग्राम पंचायत में इस रास्ते के बन जाने से लोगों के अंदर काफी उत्साह एवं खुशी है।

इस मौके पर ग्राम प्रधान ने कहा कि खुद भी जनप्रतिनिधि अगर मन से किसी काम में लग जाए तो कोई कार्य मुश्किल नहीं है। आज ग्रामीणों के सहयोग से गांववासियों के लिए उनकी ही जमीन पर रास्ता का निर्माण हो रहा है जिस पर पूरा गांव आने जाने का कार्य करेगा इसके लिए उन्होंने सभी ग्रामीणों को धन्यवाद दिया। इस मौके पर विजय पांडे परशुराम प्रसाद, गुप्तेश्वर पांडेय, दीना ठाकुर, शिवजी यादव, गोरख यादव, दयाशंकर चौधरी, अवधेश यादव, जगमोहन यादव, बृजेश गुप्ता, अमित गुप्ता, अमरनाथ गुप्ता, सुदामा साहनी सहित अनेको ग्रामीण उपस्थित रहे।

रिपोर्ट संतोष कुमार शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY