मतदान के दौरान अलग-अलग घटनाओं में तीन लोगों की मौत

0
166

People display their voting identity cards as they stand in queue outside polling booth in Shahjahanpur in northern India
बेरीनाग : उत्तराखंड में बुधवार को मतदान के लिए जनता का सैलाब उमड़ा, बच्चों, युवाओं वृधों ने भारी मात्रा में आकर मतदान में हिस्सा लिया और उत्तराखंड चुनाव में चौथी विधानसभा के लिए 70 में से 69 सीटों पर मतदान  संपन्न हो गया, एक सीट पर 9 मार्च को मतदान होगा, एक प्रत्याशी की मृत्यु के कारण कर्णप्रयाग सीट पर चुनाव स्थगित किया गया है, जहां अब नौ मार्च को मतदान होगा। चुनाव मैदान में उतरे 628 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला राज्य के 75,13,547 मतदाता करेंगें ।

मतदान के दौरान अलग-अलग घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गई

वहीं विधानसभा चुनाव के लिए मतदान के दौरान अलग-अलग घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गई। इनमें एक जोनल मजिस्ट्रेट जबकि दो बुजुर्ग मतदाता थे। गंगोलीहाट विधानसभा के गणाई क्षेत्र के जोनल मजिस्ट्रेट करन सिंह बुधवार को विभिन्न बूथों का निरीक्षण करते हुए सिमलता पहुंचे। यहां सीने में तेज दर्द शुरू होने पर उन्हें अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। एडीबी में अधीक्षण अभियंता करन सिंह इसी वर्ष 30 नवम्बर को रिटायर होना था।

बुजुर्ग ने पोलिंग बूथ पर पहुंचने से पहले ही रास्ते में तोड़ दिया दम

उधर चौबट्टाखाल के मालकोट (दलखंड) गांव के प्रेम सिंह (75) बुधवार सुबह वोट देने डेढ़ किलोमीटर चढ़ाई वाले पोलिंग बूथ दांथा जा रहे थे। बताया जा रहा थी की बुजुर्ग पैदल ही वोट डालने जा रहे थे और बुजुर्ग प्रेम सिंह ने पोलिंग बूथ पर पहुंचने से पहले ही रास्ते में दम तोड़ दिया। एक अन्य घटना में श्रीनगर क्षेत्र के अंतर्गत ग्वाड़ीगाड़ की 92 वर्षीय वीरा देवी की वोट देने के बाद घर आकर मौत हो गई। वीरा देवी अपने गांव से करीब आधा किमी दूर सरणा पोलिंग बूथ पर वोट डालने के लिए पैदल गईं और पैदल ही वापस लौटी थीं।
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here