प्रेम प्रसंग में गयी तीन जानें

0
57

वाराणसी(ब्यूरो)- प्रेम प्रसंग में दो युवतियों और एक युवक ने अपनी जान दे दी। घटना रामनगर से संबंधित है। रामनगर थानान्तर्गत रामपुर निवासी नरेश मौर्य ने पुलिस को 23 मई को ही सूचना दी थी कि मेरी बेटी बबिता(16) को कोई अज्ञात व्यक्ति अपहरण कर ले गया है। वहीं 1 जून को वरिगढही निवासी अनवर ने भी पुलिस को सूचित किया कि लोहरा, राबर्ट्सगंज का उमेश मेरी बेटी नगमा बनो को बहला फुसलाकर ले गया है। इन घटनायों को संज्ञान में लेकर पुलिस छानबीन कर रही थी। सर्विलांस से पुलिस को सूचना मिली कि उमेश का मोबाइल सोनभद्र का चंदन नामक युवक चला रहा है। सन्देह पर पुलिस ने चंदन को गिरफ्तार कर लिया पूछताछ में चंदन ने जो बातें बतायीं उसे सुनकर सबके रोंगटे खड़े हो गए।

चंदन ने बताया कि मैं और उमेश दोस्त थे, हम दोनों का रामनगर की दो सहेलियों बबिता और नगमा के साथ प्रेमप्रसंग चल रहा था। 16 मई को हम लोग लड़कियों को बहला फुसलाकर मिर्जापुर घुमाने ले गए। घुमाने के दौरान बबिता, उमेश व नगमा मुझ पर शादी करने का दबाव बनाने लगी। हमने शादी से इनकार कर दिया| इस पर बबिता ने अपने साथ लायी जहरीली दवा खा ली।हम लोग उसे चित्तईपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए ले गए पर डॉक्टर ने बी एच यू और पुलिस का केश बताकर इलाज करने से इनकार कर दिया। रात को 2 बजे रास्ते में ही बबिता की मौत हो गयी हमने उसे विश्वसुंदरी पल से गंगा में फेंक दिया। बबिता की मृत्यु से नगमा भी तनाव में आ गयी और गंगा में कूद गई। यह देखकर उमेश ने भी मोबाइल मुझे देकर गंगा में कूद गया।मैं इससे डर गया और एक मोबाइल व बाइक लेकर वहां से भाग गया। वहीं अभियुक्त ने 19 और 20 को गंगा में बरामद दो लड़कियों और एक लड़के की शव के फोटो से उनकी शिनाख्त की।

रिपोर्ट- सर्वेश कुमार यादव 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here