वन की रक्षा का दायित्व मिले वनाश्रितों को : दारापुरी

0
77


चन्दौली/नौगढ़ (ब्यूरो) वन की रक्षा करने का दायित्व वनाश्रित की सहकारी समिति को यदि सरकार दे तो नौगढ़ में प्राकृतिक सम्पदा की बढोत्तरी होगी, जंगल सुरक्षित होगा और साथ ही कृषि योग्य जमीन पर वेहतर किसानी भी होगी | इसके उल्टे जंगल की जमीन पर पुश्तैनी कब्जे से वनाश्रितों की बेदखली नौगढ़ की शांति को भंग करेगी! इसलिए नौगढ़ की शांति व जंगल की जमीन पर अधिकार का आंदोलन स्वराज अभियान नौगढ को लेकर दिल्ली तक लड़ेगा | यह बाते तहसील में आयोजित जन सुनवाई में हजारो की संख्या में जूटे ग्रामीणों को संबोधित करते हुए स्वराज अभियान के नेता व पूर्व आई जी यू.पी. पुलिस एस आर दारापुरी ने कही |

सुनवाई में मौजूद यूपी, वर्कर्स फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष दिनकर कपूर ने कहा कि हमारा आंदोलन नौगढ़ मे कानून का राज की स्थापना के लिए है! यंहा वन विभाग गैरकानूनी बेदखली कर रहा है वनाधिकार कानून के प्रावधानों के अनुसार बिना दाबा निस्तारण के बेदखली नही की जा सकती इस सम्बन्ध में हाईकोर्ट ने आदेश भी दिया है वाबजूद इसके वोदलपुर, गोलावाद, चोरमरवा जय मोहनी पोस्ता, मे घरो को तोड दिया गया, घरो को जला दिया गया ,कुओं को पाट दिया गया, खेती योग्य जमीनी मे गढ्ढा व ट्रैंच खोद दिए गये! प्रशासन को इस गैर कानूनी बेदखली पर तत्काल रोक लगाकर कानून व न्यायालय का सम्मान बचना चाहिए ! यदि प्रशासन ने वनाधिकार के तहत जमीन पर अधिकार नही दिया तो स्वराज्य अभियान न्यायालय में अवमानना का मुकदमा दायर करेगा |

सुनवाई मे वरिष्ठ पत्रकार विजय विनीत,ग्रामीण मजदूर मंच के जिला संयोजक रामनरायन राम, नन्दलाल यादव, रहमुदीन ,रामसकल, विनोद कुमार, रमेश खरवार, आंगनवाडी यूनियन के प्रदेश कोषाध्यक्ष बविता, सुदामा बचाउ, गंगा चेरो, हेम नाथ चन्द्रिका कोल पुर्व प्रधान, चन्द्रवलि यादव ने सम्बोधित किया | जन सुनवाई की अध्यक्षता स्वराज्य अभियान के नेता व ग्रामीण मजदूर मंच के जिला संगठन प्रभारी अजय राय ने किया संचालन ग्रामीण मजदूर मंच के जिला सह संयोजक रामेश्वर राम ने किया |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY