आज है शबे बरात की रात

0
94

देहरादून(ब्यूरो)- आज है मगफिरत की रात में लोगों ने हाथ उठाकर मांगी अपने गुनाहों की तौबा अगर इस रात में खुदा से सच्चे दिल से जो अपनी मुरादे रखता है वह पूरी कर दी जाती है| शबे बरात इबादत की रात होती है। इस रात में सभी को कुरान की तिलावत व नफील नमाज पढ़नी चाहिए। और इबादत से ही सब कुछ मिलता है|

अपने आसपास की ईदगाह मदरसे के में शबे-बरात के मौके पर कहा कि गुरुवार रात सभी मुसलमान अपनी मस्जिदों में जागकर इबादत करें और इस मौके पर नफिल नमाज के साथ कुरान की तिलावत करें यह साल की सबसे बड़ी इबादत की रात होती है और इस रात को किसी को खोना नही चाहिए। मौलाना आरिफ ने कहा कि रात भर जागने का मतलब खुदा के सामने जो भी इंसान जो कुछ मांगता है उसे उपर वाला पूरा करता है। रात में इबादत करने के बाद सुबह को रोजा रखना चाहिए उससे भी सवाब हासिल होगा। इस मौके पर कई मदरसे में जलसे का आयोजन किया जा रहा है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY