आइपीएल के छठे संस्करण में स्पॉट फिक्सिंग मामले में आज तय हो सकते हैं आरोप

0
241
क्रिकेटर एस श्रीसंत, अजित चंदीला और अंकित चव्हाण
क्रिकेटर एस श्रीसंत, अजित चंदीला और अंकित चव्हाण

http://q8bsc.com/owner/napisat-pismo-hovanskoy-po-elektronnoy-pochte-33333.html написать письмо хованской по электронной почте 33333 नई दिल्ली समाचार – इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) के छठे संस्करण में स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में फंसे निलंबित क्रिकेटर एस श्रीसंत, अजित चंदीला और अंकित चव्हाण के लिए आज का दिन बहुत ही अधिक महत्वपूर्ण है क्योंकि आज स्पॉट फिक्सिंग मामले में 42 आरोपियों के खिलाफ दायर किये गए आरोप पत्र पर दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट अपना फैसला सुनाएगी आपको बता देतें हैं कि उक्त मामले में ही तीनों क्रिकेटर भी आरोपी हैं।
अब अदालत यह तय करेगी कि आरोपियों पर लगाये गए आरोप सही हैं या फिर यह बेबुनियाद हैं, यदि आज यहाँ दिल्ली पुलिस अदालत में आरोप तय कराने में कामयाब हो गयी तो इस मामले की सुनवाई आगे होगी I

http://remontykepno.pl/meest/kakie-svechi-zazhiganiya-luchshe-dlya-neksii.html какие свечи зажигания лучше для нексии

технологические карты занятий в доу по изо आपको बता देते हैं की पूर्व भारतीय क्रिकेटर एस. श्रीसंत को स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में 16 मई, 2013 को गिरफ्तार किया गया था और उस्जे बाद उन्हें पूछताछ करने के लिए 11 जून तक जेल ही रखा गया था । और तभी से श्रीसंत के उपर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया गया।

http://www.akhandbharatnews.com/owner/naydi-znachenie-virazheniya-12-0-4.html найди значение выражения 12 0 4 हालांकि मामले की सुनवाई के दौरान पुलिस की जांच भी संदेह के घेरे में आई थी और अदालत ने उस पर सवाल भी उठाया था। साथ ही यह भी कहा था कि प्रथम दृष्टया इसका कोई सबूत नहीं है, जिससे यह साबित हो कि आरोपी मैच फिक्सिंग में शामिल हैं। बहरहाल 23 मई को अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश नीना बंसल कृष्णा ने आरोप पत्र पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था और आरोपियों के वकीलों को निर्देश दिया था कि यदि वे कोई बात रखना चाहते हैं तो नौ जून तक लिखित रूप में दे सकते हैं।

где провести выходные за городом इस मामले में पुलिस ने छह हजार पेज का आरोप पत्र अदालत में पेश किया था। बाद में पूरक आरोप पत्र भी दाखिल किया गया था। जिसमें अडंरवल्र्ड डॉन दाऊद इब्राहिम, छोटा शकील, बुकियों व क्रिकेटरों समेत 42 आरोपियों के खिलाफ आरोप तय करने की सिफारिश की गई है। जिसमें दाउद और छोटा शकील सहित छह आरोपियों को भगोड़ा घोषित किया गया है।
(Data input & photo credit http://www.jagran.com/)