स्वच्छ भारत मिशन के तहत पाँच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुआ समापन

0
160

mukhy prashikshak chandauliचंदौली : जिले में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत गांवों को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए कृषि विज्ञान केंद्र के सभागार में पांच दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का रविवार को समापन हो गया। इसमें पंचायती राज विभाग द्वारा जनपद के विभिन्न विकास खंडों से सुगमकर्ताओं, स्वयं सेवी संस्था, स्वयं सेवक एवं सफाई कर्मियों को चयनित करते हुए 116 प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षित किया गया।

कार्यशाला के दौरान मुख्य प्रशिक्षक ज्योति प्रकाश एवं उनकी टीम द्वारा क्लास रूम ट्रेनिंग, फील्ड विजिट एवं अन्य श्रोतों से प्रशिक्षण दिया गया। क्लास रूम ट्रेनिंग के उपरान्त टीम के सदस्यों द्वारा जनपद के 8 ग्राम पंचायतों बिछियाकलां, पुरवां, मझवार, सुल्तानपुर, बरहुली, राममाड़ो, रोहणा एवं कठौड़ी में ट्रेनिंग के उपरान्त फालोअप करते हुए प्रशिक्षणार्थियों को निरन्तर अभ्यास कर ट्रिगरिंग की गतिविधियों में पारंगत किया गया। वहीं जनपद के 75 ग्राम पंचायतों को चरणबद्ध तरीके से खुले में शौचमुक्त करने की कार्ययोजना बनायी गई। इसमें गंगा किनारे के 48 ग्रामों पंचायतों को अधिकतम 35 दिवस में खुले में शौच मुक्त किये जाने का लक्ष्य रखा गया है।

रविवार को कार्यशाला के अंतिम दिन प्रशिक्षणार्थियों को जिलाधिकारी कुमार प्रशांत द्वारा प्रमाण पत्र वितरित किया गया। डीएम ने निर्देश दिया कि बनाई गई रणनीति एवं कार्यक्रम के अनुसार नियमित रूप से ग्रामों में ओडीएफ की गतिविधियां सचालित करें ताकि गंगा किनारे के समस्त ग्रामों को 15 फरवरी तक खुले में शौच मुक्त कराया जा सके। वहीं जनपद के अन्य ग्रामों में भी नियमित रूप से ओडीएफ की गतिविधियां संचालित कर जनपद को खुले में शौच मुक्त कराया जाय। इस मौके पर सीडीओ श्रीकृष्ण त्रिपाठी समेत अनेक अधिकारी मौजूद थे।

रिपोर्ट–दीपनारायण यादव/उमेश दुबे

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here