11 एनडीआरएफ ने रेल दुर्घटना पर रेलवे कर्मचारियों को दिया प्रशिक्षण

0
100


वाराणसी ब्यूरो : वाराणसी स्थित 11 एनडीआरएफ ने पूर्व-मध्य रेलवे डिवीज़न मुग़लसराय के के कर्मचारियों को रेलवे दुर्घटना में संयुक्त रूप से प्रभावी राहत बचाव कार्य करने के लिए एक तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया । इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में रेलवे के ए.आर.टी और ए. आर. एम. वी के कर्मचारियों को दिनांक 7 .06 .17 से 9 .06 .17 तक रेलवे दुर्घटना में राहत बचाव कार्य करने, घायलों को निकालने, विशेष काटने वाले उपकरणों का इस्तेमाल और मेडिकल केयर के बारे में प्रशिक्षण दिया ।

उक्त प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षणार्थियों को रेल दुर्घटना आपदा प्रबंधन, प्रथम चिकित्सा उपचार, मनुष्य की शारीरिक संरचना के विषय में जानकारी व बचाव के तरीके सिखाये । इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान पहले दिन प्रशिक्षणार्थियों को रेल दुर्घटना के समय बेस ऑफ़ ऑपरेशन बनाना, राहत बचाव कार्य करने के तरीके और फसे हुए लोगों को निकालने की विभिन्न विधियों के बारे में जानकारी दी । दूसरे दिन एनडीआरएफ व रेलवे में राहत बचाव के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले सभी उपकरणों के इस्तेमाल, सावधानियां और इनकी सीमाओं के बारे में जानकारी दी गयी । उपकरणों में विक्टिम लोकेटिंग कैमरा जोकि किसी फसे हुए व्यक्ति की स्थिति को बताता है और लाइफ डिटेक्टर टाइप-२ जोकि किसी दबे हुए व्यक्ति के जीवित होने की सूचन देता है आदि के बारे में बताया । इसके साथ ही रेल के डिब्बों की मोटी लोहे की चादरों को काटने के लिए प्रयोग किये जाने वाले हाइड्रोलिक कटर, रोटरी रेस्क्यू सॉ आदि के प्रयोग के बारे में बताया । इसके अतिरिक्त दुर्घटना के समय उलट-पुलट पड़े रेल के डब्बों में रस्सी के द्वारा घायलों को निकालने में पर्वतारोहियों द्वारा प्रयोग की जाने वाली तकनीक के बारे में प्रदर्शन के माध्यम से बताया ।

अंतिम दिन प्रशिक्षणार्थियों को घायलों को दी जाने वाले प्राथमिक उपचार में बहते हुए रक्त को रोकने, फ्रैक्चर को सिक्योर करने, गंभीर शारीरिक चोट, इम्प्रोवाइज़्ड स्ट्रेचर, घायल को ले जाने के तरीके और जीवनदायी सी.पी.आर के बारे में प्रदर्शन के माध्यम से समझाया ।

इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में एनडीआरएफ की 17 सदस्यीय टीम श्री राणा संग्राम सिंह के नेतृत्व में इंस्पेक्टर रोहित भरद्वाज, इंस्पेक्टर नागेंद्र, सब-इंस्पेक्टर शिवराज पी और सब इंस्पेक्टर ओशियर सिंह के साथ इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को चलाया । इस प्रशिक्षण में 120 लोगों को प्रशिक्षण दिया गया जिसमें रेलवे अधिकारी, डी आर एम, ए डी आर एम, ए आर टी स्टाफ, ए आर एम वी और रेलवे स्काउट और गाइड्स शामिल थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here