महिला को जान से मारने की कोशिश, पैसा वापस करने की डिमाण्ड पर घटित हुई घटना

केराकत/जौनपुर (ब्यूरो) एक महिला ने बेटे की नौकरी के लिए जौनपुर के विकास भवन का बाबू बताने वाले को नौकरी दिलाने के नाम पर 60 हजार रूपये दिए थे जिसे वापस माँगने पर बाबू बताने वाला आदमी महिला को दूसरे थाना क्षेत्र में अपनी बाइक पर बैठाकर ले गया, जहाँ पर महिला के सर में ईंट से मारकर जान से मारने की कोशिश की गयी और महिला को सर में ईंट से मारकर गम्भीर घायल कर दिया गया जिसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

बताया गया है कि ग्राम बनेवरा थाना नेवड़ियाँ जौनपुर निवासी सरोजा पटेल 35 साल को बाबू बताने वाला आदमी अपने बाइक से जफराबाद थाना क्षेत्र के एक जंगल में ईंट से सर में मारा जिससे सरोजा के सर में गंभीर चोटें आयी है, जिसे 100 डायल ने केराकत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज के लिए भर्ती कराया जहाँ पर सर में गम्भीर चोटें आने के कारण प्रथम उपचार के बाद डॉक्टरों ने जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।

घायल महिला सरोजा पटेल ने बताया कि बेटे की नौकरी के लिए जौनपुर के विकास भवन में बाबू पद पर बताने वाला गुलाब उर्फ़ डब्लू सिंह ने 60 हजार रूपये लिए थे इनका एक साथी प्रवीन सिंह भी अपने को बाबू बताता है।प्रवीन सिंह ने थाना नेवड़ियाँ के ग्राम बनेवरा पुल पर मोटरसाइकिल लेकर आये और बेटे की नौकरी दिलाने की बात करने के लिए फोन करके जौनपुर के तारापुर कालोनी में गुलाब सिंह के चाची के घर जाने की बात कह कर मोटरसाइकिल पर बैठा कर शुक्रवार को शाम में लेकर जौनपुर की तरफ आया और जब प्रवीन सिंह अपनी बाइक से थाना जफराबाद के ग्राम शिवपुर सखोई के जंगल के पास पहुँचा तो मैंने पूछा कि यहाँ किस लिए लाये, उसी दौरान प्रवीन सिंह ने सरोजा को गाली देते हुए बाइक से उतार कर ईंट से सर में मारने लगा जिससे सरोजा लहूलुहान हो गयी और सरोजा पटेल की सोने की सिकड़ी गले से नोच लिया और कान की बाली, पायल, मोबाइल, पर्स जिसमें 18 सौ रुपया था और कहा कि अभी मैं अपनी लाइसेंसी असलहा लेकर आ रहा हूँ तब तुझे जान से मार दूँगा। जैसे ही प्रवीन बाइक लेकर कुछ दूर गया होगा कि उसी दौरान सरोजा जान बचाने के लिए जंगल के दूसरी तरफ एक झाड़ी में जाकर छिप गई और रातभर उसी झाड़ी में छिपी रही।

सुबह होते ही धीरे धीरे झाड़ी से निकल कर केराकत क्षेत्र के बेलावं घाट के पुल को पार किया उसी समय एक साईकिल वाला जा रहा था उसी से मदद माँगने पर उसने 100 नम्बर पुलिस को फोन किया और 100 नम्बर पुलिस ने केराकत अस्पताल पहुँचाया। घायल सरोजा ने यह भी बताया कि वह एक प्राइवेट अध्यापक है और सपा के शासन में सपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष भी रही। खबर दिए जाने तक केराकत कोतवाली में घटना की लिखित जानकारी अभी तक नहीं दी गयी है।

रिपोर्ट – फिरोज अन्सारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here