अद्भुत- 16 साल बाद मिले, पर्वतारोही और उसके कैमरा मैन के शव

0
881

काठमांडू- हिमालय में 16 साल पहले हुए भूस्खलन की चपेट में आये एक पर्वतारोही और उसके कैमरामैन की लाश हाल ही में बरामद हुई है | पर्वतारोही एलेक्स लो और उनके कैमरामैन डेविड ब्रिजेज के शव पिछले हफ्ते दो पर्वतारोहियों डेविड गोएतलर और उएली स्टेक को दोनों के शव बर्फ में दबे मिले है |

लो की याद में उनकी पत्नी और दोस्त ने नेपाल में बनाया फांउडेशन –
महान पर्वतारोही लो की याद में उनकी पत्नी और उनके दोस्त नेपाल में ही बस गए थे इन दोनों ने अपने पति और दोस्त की याद में यहाँ पर एक फांउडेशन की स्थापना भी की है और पिछले 16 वर्षों से लगातार बहुत सारे लोगों को पर्वतारोही की ट्रेनिंग देते है | इसी फांउडेशन ने इस खबर की पुष्टि की है कि उनके ख़ास दोस्त और महान पर्वतारोही और उनके कैमरामैन की लाश बर्फ के नीचे दबी हुई मिली है | उन्होंने यह भी कहा है कि हम जल्द ही वहां जाकर उनकी लाशों को लेकर आयेंगे |
alex

अक्टूबर 1999 में हुआ था हादसा-
बता दें कि अक्टूबर 1999 में तिब्बत के शिशपांगमा पर्वतश्रेणी (8013 मीटर या 26,335 फीट) पर चढ़ाई करते वक्त भूस्खलन से इन दोनों की मौत हो गयी थी | इनकी मौत के बाद इनकी बॉडी को भी रिकवर नहीं किया जा सका था | इनकी मौत से दुखी होकर ही महान पर्वतारोही के दोस्त और उनकी पत्नी ने नेपाल में ही अपना आशियाना बना लिया था | तब से ही इन दोनों ने अपने जीवन का लक्ष्य केवल लोगों को पर्वतों पर चढ़ने की ट्रेनिंग देने में ही बिता दिया है |

ज्ञात हो कि हादसे में एलेक्स (40) और डेविड (29) की मौत हो गई थी, लेकिन उनके तीसरे साथी कोनार्ड एंकर बच गए थे | बाद एमे कोनार्ड ने एलेक्स की पत्नी से शादी कर ली थी और साथ ही उनके तीनों बच्चों को भी अपना लिया था |
ये दोनों तभी से नेपाल में ही रहकर स्थानीय मजदूरों को पहाड़ पर चढऩे की ट्रेनिंग दे रहे हैं | कोनार्ड ने बताया है कि यह खबर उनके परिवार के लिए राहत भरी है | वे जल्द ही वहां पर जाकर दोनों के शवों को लेकर आएंगे |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here