जानलेवा हमले मे दो लोगों के खिलाफ धारा 307 के तहत मुकदमा दर्ज

0
41


लालगंज-रायबरेली (ब्यूरो)- लालगंज पुलिस ने जानलेवा हमले के मद्दे नजर हुयी फायरिंग की घटना मे घायल मनीष सिंह उर्फ भीम सिंह के पिता रामबक्स सिंह निवासी रणगांव की तहरीर पर डिहवा मजरे दतौली के सौरभ उर्फ मल्हू शर्मा व निहस्था निवासी राघवेन्द्र सिंह पुत्र हनुमन्त सिंह के खिलाफ धारा 307 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

उल्लेखनीय है कि शनिवार को देर रात तहसील रोड लालगंज रेलवे क्रासिंग के पास मनीष सिंह को गोली मारकर घायल कर दिया गया था। मनीष सिंह का इलाज लखनऊ मेडिकल कालेज मे चल रहा है। मनीष सिंह के पिता रामबक्स सिंह ने बताया कि पहले भी उनके पुत्र को राघवेन्द्र सिंह के द्वारा फोन पर जान से मारने की धमकी दी गयी थी जिसका मुकदमा लालगंज कोतवाली मे दर्ज है। मनबढे सरहंगो के द्वारा शनिवार को उनके पुत्र मनीष सिंह पर जान से मारने की नीयत से गोली मारी गयी है। प्रभारी इन्चार्ज आरआर कुसवाहा ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों को पकडने का प्रयास किया जा रहा है।

मानवाधिकार का उल्लंघन कर व्यापारी नेता को पुलिस ने बन्द किया हवालात मे
मनीष सिंह पर हुये जानलेवा हमले के प्रकरण मे आरोपी राघवेन्द्र सिंह के गांव के ही राजू तिवारी को लालगंज पुलिस ने शनिवार शाम थाने बुलाकर लाक अप मे बन्द कर दिया। नाजायज व गैरकानूनी तरीके से की गयी पुलिस कार्यवाही से नाराज व्यापारियों ने लालगंज थाने पहुंचकर सीओ चन्द्रदेव यादव से मोबाइल एसोसियेसन के अध्यक्ष राजू तिवारी को पकडे जाने के बाबत जानकारी ली तो सीओ ने कहा कि शनिवार शाम लालगंज मे हुयी गोलीकाण्ड की घटना के बाबत पूछताछ के लिये बुलाया गया है।

व्यापारियां के दबाव मे रविवार दोपहर राजू तिवारी को पुलिस ने यह लिखाकर कि जरूरत पर पूछताछ के लिये उपलब्ध होंगे, रिहा कर दिया। व्यापारी नेताओं की माने तो लालगंज पुलिस ने राजू तिवारी के खिलाफ बिना किसी आरोप के रात भर बन्द रखा, जिसको लेकर व्यापारियों मे भारी नाराजगी व्याप्त है। पुलिस के मनमाने ढंग से की गयी कार्यवाही की सिकायत उच्चाधिकारियों से की जायेगी। वास्तव मे बिना किसी नोटिस व सम्मन के किसी भी थाने के हवालात मे बन्द करना सरासर मानवाधिकार कानूनों का उल्लंघन है।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य /सुशील शुकला

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY