आखिरकार सच साबित हुई इंटक नेता की आशंका

0
95

बैरिया/बलिया (ब्यूरो)  -: इसी बैग के जगह कटानरोधी कार्य में मडपंप से बालू भरकर ऊपर से बालू भरी बोरियां रखकर बोल्डर बिछा देने के कारण रिंग बंधा में शुरू हुआ कटान। अगर गंगा से मडपंप से बालू निकालकर उसे इसी बैग में भरकर रखा गया होता कटान नहीं होता।यह जानकारी बाढ़ विभाग के एक अभियंता ने अपना नाम न छापने पर बताया है। दूसरी तरफ इस तरह की कटान की आशंका एक वर्ष पूर्व इंटक के जिलाध्यक्ष विनोद सिंह ने जताते हुए मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर टीएसी से जांच कराने की मांग की थी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसकी जांच कराने का आदेश भी दिया था किंतु अधिकारियों ने मुख्यमंत्री के आदेश को फाइलों में दबाकर रख दिया और जांच नहीं हो सका। जांच होता तो बड़ी अनियिमतता सामने आई होती। इंटक के जिलाध्यक्ष ने कहा है कि अगर अधिकारी अगर इसकी जांच नहीं करते हैं तो मामले को उच्च न्यायालय में जनहित याचिका के तहत ले जाऊंगा।विनोद सिंह ने आरोप लगाया कि यहां कटानरोधी कार्य में बाढ़ विभाग द्वारा कम से कम 10 करोड़ रुपये का घोटाला किया है।

रिपोर्ट : धीरज सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here