ऊॅंचाहार इकाई ने उत्पादन में लक्ष्य को पछाड़ा: विनोद चैधरी

0
54

 

रायबरेली (ब्यूरो)- ऊॅंचाहार की नई यूनिट के सिन्क्रोनाइज होने के साथ ही एनटीपीसी की कुल विद्युत उत्पादन क्षमता 50000 मेगावाट से अधिक हो चुकी है। कंपनी की संस्थापित क्षमता के इस बडे लक्ष्य को हासिल करने में ऊॅंचाहार का योगदान अतुलनीय है।

यह विचार ऊॅंचाहार परियोजना के समूह महाप्रबंधक विनोद चैधरी परियोजना में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में व्यक्त किये। श्री चैधरी ने यह भी बताया कि परियोजना निर्माण के लिए जो समयावधि निर्धारित की गयी थी उससे बहुत पहले मात्र 26 महीने में यूनिट सिन्क्रोनाईज करके पूरे एनटीपीसी में ऊॅंचाहार ने अभूतपूर्व रिकार्ड स्थापित किया है। प्रचालन के क्षेत्र में भी हम दिनांे दिन रिकार्ड स्थापित कर रहे है। परियोजना की पांॅचों इकाइयाॅं अपनी पूरी क्षमता के साथ विद्युत उत्पादन कर रही है तथा 10 मेगावाट का सोलर प्लाण्ट भी पूरी क्षमता से विद्युत उत्पादन कर रहा है।

पत्रकार वार्ता के दौरान महाप्रबंधक ने कहा कि विद्युत उत्पादन के अलावा सामाजिक सरोकार के प्रति भी हम संवेदशील रहते है। इस दिशा में पर्यावरण संरक्षण हमारी प्राथमिकता में है और इसी लिए नियमित वृक्षारोपण के साथ साथ प्रतिवर्ष हजारों पौघों का निःशुल्क वितरण भी किया जाता है। प्लाण्ट की राख लगभग 84 प्रतिशत सदुपयोग की जा रही है। सामुदायिक क्षेत्र में नये नये प्रयोग करने के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। महिलाओं, बच्चों, जरूरतमंदो को स्वावलम्बी बनाने के लिए तरह तरह के प्रशिक्षण हमारे एजेंडे में है। इसके अलावा चिकित्सा, शिक्षा, पीने का पानी, शौचालय, सड़क, खडंजा के निर्माण का कार्य नियमित रूप से चलते रहते हैं। विकास कार्यो को प्रभावी बनाने के लिए ग्राम विकास सलाहकार समिति का गठन किया गया है जिसमे क्षेत्रीय जन प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर के सामुदायिक विकास का एंजेडा तय किया जाता है।

इसके पहले अपर महाप्रबंधक मानव संसाधन सी0कुमार ने सभी पत्रकारों का स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन आज्ञा शरण सिंह ने किया तथा प्रबंधक जनसंर्पक ए.के.श्रीवास्तवा ने पत्रकारों से मिल रहे सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here