अधूरे पड़े निर्माण कार्यों को तेजी से पूरा कराने के दिये निर्देश, समय-सीमा की साप्ताहिक बैठक में हुई विकास कार्यों की समीक्षा

0
67

राजनांदगांव/छत्तीसगढ़ (ब्यूरो)- कलेक्टर श्री मुकेश बंसल ने समय-सीमा की साप्ताहिक बैठक में आज जिले में अधूरे पड़े निर्माण कार्यों को तेजी से पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होनें अधूरे निर्माण कार्यों के लिए मूल्यांकन कराकर पूर्व सरपंचों और संबंधित पंचायत पदाधिकारियों से बकाया राशि वसूली के प्रकरण भी तेजी से निराकृत करने के निर्देश अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को दिये।

कलेक्टर ने बैठक में निर्देशित किया कि अधूरे पड़े जिन स्वीकृत कार्यों का निर्माण शुरू हो गया था उनका मूल्यांकन कर पूरा करने के लिए जरूरी राशि की मांग की जाये। बकाया राशि की वसूली के लिए पूर्व सरपंचों के विरूद्ध धारा 92 के तहत प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की जाये। श्री बंसल ने यह निर्देश आज समय-सीमा की साप्ताहिक बैठक में दिये। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित इस बैठक में आज जिले में चल रहे विकास कार्यों और तात्कालिकता के विषयों की गंभीर समीक्षा की।

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री चंदन कुमार, अपर कलेक्टर श्री संजय अग्रवाल एवं श्री जे.के. धु्रव सहित जिले के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारी एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टर ने जिले की नई बनी 106 ग्राम पंचायतों में शासकीय दस्तावेजों और अन्य निर्माण कार्यों के रिकार्ड आदि का प्रभार मूल ग्राम पंचायत के सरपंच-सचिव से वर्तमान सरपंच-सचिव को हस्तांतरित कराने के भी निर्देश अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को दिये।

उन्होनें अधिकारियों को निर्देशित किया कि नये तथा पुराने ग्राम पंचायतों के पदाधिकारियों की बैठक बुलाकर दस्तावेजों तथा रिकार्डों के हस्तांतरण प्रकरणों को निराकृत कर लिया जाये। श्री बंसल ने भूमिहीन कृषि मजदूर और लघु सीमांत किसानों के आधार पर बने राशन कार्डों की जांच पूरी कर शनिवार तक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होनें निर्देशित किया कि जांच रिपोर्ट में राशन कार्ड धारकों के अपात्र होने का कारण स्पष्ट दर्शाया जाये।

श्री बंसल ने जिले के सभी नगरीय निकायों में स्वच्छता अभियान के तहत शौचालयों के निर्माण की प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होनें सभी नगरीय निकायों में वार्डवार निगरानी समितियों का गठन करने प्रचार-प्रसार के लिए दीवार लेखन आदि की व्यवस्था करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिये। श्री बंसल ने नगरीय निकायों के विभिन्न वार्डों में निर्मित सार्वजनिक शौचालयों का भी नियमित इस्तेमाल सुनिश्चित कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होनें निर्देशित किया कि ग्रामीण क्षेत्रों में शौचालयों का निरंतर उपयोग सुनिश्चित करने के लिए जनजागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से सप्ताह में एक दिन जागरूकता रैली का आयोजन किया जाये। कलेक्टर श्री बंसल ने ग्राम स्तरों तथा शहरी क्षेत्रों में वार्ड स्तरों पर गठित निगरानी समितियों की भी नियमित बैठक आयोजित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। शहरी क्षेत्रों में खुले में शौचमुक्ती के लिए जागरूकता फैलाने व्यापक प्रचार-प्रसार सहित सायकिल एवं ऑटो रिक्सा पर प्रचार-प्रसार करने के निर्देश भी कलेक्टर ने अधिकारियों को दिये।

रिपोर्ट-हरदीप छाबड़ा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY