पुलिया के नीचे मिला अज्ञात का महिला का शव, हत्या की आशंका 

 

लालगंज/प्रतापगढ़(ब्यूरो) लालगंज कोतवाली के अमांवा गांव में बनी हाटबाजार के समीप पिचूरा मोड़ पर गुरूवार को पुलिया के नीचे झाडियों में लगभग 25 वर्षीय एक अज्ञात महिला का शव मिलने से सनसनी फैल गई। लालगंज-सांगीपुर रोड पर राहगीरों ने शव देखा तो पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से महिला के शव को पुलिया के नीचे झाडियों से बाहर निकला। जांच के दौरान महिला के हाथ के दोनों अंगूठों में स्याही लगी मिली। उसके शरीर पर चोट के निश्चान भी पाए गए।

आशंका है कि बुधवार की रात पिटाई के बाद उसकी गला दबाकर हत्या कर शव को यहां फेंकवा दिया गया। दोनों हाथ के अंगूठों पर स्याही लगी होने से जमीनी विवाद में हत्या किए जाने की आशंका जताई जा रही है। पुलिस व स्थानीय लोग यही मान कर चल रहे है कि अंगूठे का निशान हत्या करने के बाद किसी दस्तावेजों पर लगवाया गया है। पुलिस ने शव का शिनाख्त कराए जाने का प्रयास किया लेकिन उसकी पहचान नही हो सकी। इसके बाद शव का पंचनामा कर उसे पीएम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया।

पुलिस का कहना है कि प्रथम दृष्टया हत्या कर महिला के शव को झाडियों में फेंकने की बात सामने आई। शव की शिनाख्त कराए जाने का प्रयास किया जा रहा है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही साफ हो सकेगा कि उसकी हत्या कैसे की गई थी। वहीं मौके पर मौजूद लोगों के बीच पुलिस की संवेदनहीनता भी काफी चर्चा का विषय बनी देखी गई। दो घंटे तक महिला का शव झाड़ियों में पड़ा रहा और लालगंज तथा सांगीपुर की पुलिस आपस में सीमा विवाद को लेकर उलझती दिखी। राहगीरों की सूचना पर पहले सांगीपुर के प्रभारी निरीक्षक चन्द्रकान्त उपाध्याय मौके पर पहुंचे। एसओ सांगीपुर यहां महिला का शव बाहर निकलवाने को कौन कहे वह इसे लालगंज का सीमा क्षेत्र बताकर पल्ला झाड़ लेने में ही मशगूल दिखे। अंततः जिले के आला पुलिस अफसरों की फटकार के बाद लालगंज पुलिस मौके पर पहुंची और नाक को सिकोड़ते किसी तरह महिला का शव बाहर निकलवाया और मृतका का शव पंचनामा कर पीएम के लिए दोपहर बाद जिला मुख्यालय भेजवाया।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY