खुद को आबकारी अधिकारी बताकर अज्ञातों ने लूटी महिला की आबरू

0
148

पुरवा/उन्नाव ब्यूरो : लक्जरी गाड़ी में रात के अंधेरे में दलित महिला के घर पहुंचे कुछ लोगों ने खुद को आबकारी अधिकारी बताकर उसे जबरन कार में बैठा लिया और रात भर घूम-घूम कर उसका बलात्कार करते रहे  | किसी तरह पुलिस को खबर हुई पुलिस ने जब नाका बन्दी की तो वह महिला को सडक किनारे फेंक कर चले गये। कोतवाली पुलिस ने पीड़िता के शिकायती पत्र पर 3 अज्ञात लोगों के विरूध संगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर महिला को डाॅ0 परिक्षण हेतु जिला अस्पताल भेजा है।
प्राप्त विवरण के अनुसार मामला कोतवाली क्षेत्र के गांव बिशुनखेडा का है, जहां मंगलवार की रात काली होण्डा सिटी कार सवार तीन बदमाश गांव पहुचे जहां बीट के दरोगा योगेश सिंह के संरक्षण में कच्ची शराब का धन्धा करने वाली दलित महिला छाया देवी पत्नी राम मनोहर (बदले हुए नाम) के घर पहुंचे। इसके पहले अज्ञात कार सवार लोगों को देखकर महिला घर से निकल भागी, तभी कार सवार बदमाश महिला के घर के अन्दर घुस गये और अपने आप को आबकारी पुलिस बताकर घर की तलाशी लेना शुरू कर दी। इसी बीच गांव का रामकिशोर उर्फ झूरी पुत्र लालबहादुर ने बताया कि हमने सोचा कि छाया देबी जिसके खेत बटाई पर जोतती हैं शायद खेत मालिक हिसाब करने आये हैं और झूरी वहां पहुच गया।

झूरी के मुताबित उक्त बदमाशो ने घर की तलाशी ली तो लगभग 20 ली. कच्ची शराब मिली। कच्ची शराब दो पीपो में मिली जिसे बदमाशो ने अपने कब्जे में ले लिया। झूरी ने बताया कि घर के गल्ले में लगभग 2000 रू0 रखा था उसे भी ले लिया। उस के बाद झूरी को मारने पीटने लगे और शराब के पीपा तथा झूरी को कार में डाल लिया। कार अहमदाबाद ग्रान्ट गांव की ओर चल दी। वहीँ अमदाबाद नहरिया की पुलिया पर रोकने के बाद कार पुनः विशुनखेडा की ओर वापस कर झूरी की पिटाई शुरू कर दी और झूरी से कहा छाया को बुलाओ 5000 रू0 लेकर आये तो मामला यहीं खत्म कर देते हैं। जिस पर फोन कर झूरी ने महिला को बुला लिया |

 

फिर क्या कार सवार बदमाश दोनो को कार में डालकर पुरवा ले आये और पुरवा स्थित पेट्रोल पम्प पर गाडी में तेल भरवाया और पुनः वहां से वापस होकर दूसरे रास्ते से ग्राम धिरजीखेडा जहां राजाखेडा होते हुए फिर कुशलखेडा गांव के सामने रोड पर कार खड़ी कर कहा कि अब रूपया 60000 मगवाओ जिस पर पीड़िता ने गांव के कोटेदार राम मोहन को फोन कर पूरी बात बताई। इधर कोटेदार ने अपने क्षेत्र के क्षेत्र पंचायत सदस्य को पूरी बात बताई जहां बी.डी.सी. ने कोतवाली में सूचना दी। उसके बाद कोटेदार ने छाया से फोन करके पूछा कि आप लोग कहां हैं हम पैसा लेकर कहां आयें। इस बीच बदमाशो को भनक लग गयी तो उन्होने दोनो के मोबाइल ले लिया और स्विच आॅफ कर दिया और चमियानी की ओर जैन भट्ठा के आगे झूरी को उतार दिया और महिला को लेकर चले गये।

 

पीड़िता ने बताया कि उक्त बदमाश अपने आप को आबकारी पुलिस बताकर देर रात तक बारी-बारी से हमारा बलात्कार करते रहे और पुलिस की नाकाबन्दी की भनक पाकर बादमाशों ने पीड़िता को चलती कार से चमियानी रोड पर सेमरीमऊ मोड़ के सामने छोड कर भाग गये। अब सवाल यह आता है कि बीट के दरोगा का छुुट्टी पर जाना क्या सोची समझी रणनीति के तहत आता है। जब बीट के दरोगा के छुट्टी पर जाते ही होण्डा सिटी सवार अवैध कच्ची शराब का धन्धा करने वाली महिला के घर घुस गये जमकर उत्पात मचाया रात भर कार सवार की दबंगयी से ग्रामीण दहसत जदा रहे | उन्होने महिला के साथ एक ग्रामीण को अपनी कार में बन्धक भी बनाया जिसके माध्यम से महिला को बुलवाया। अपने आप को आबकारी विभाग का अधिकारी बताकर पैसे वसूली की बात भी की पहले 5000 की डिमांड फिर डिमांड बढ़कर 60000 हो गयी। वहीं कोतवाली पुलिस ने पीडिता के शिकायती पत्र पर आई0पी0सी0 की धारा 392/376 ध/323,504,506 के अन्तर्गत मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। वहीं क्षेत्राधिकारी सुशील कुमार सिंह ने बताया कि महिला के बताने के अनुसार मुकदमा दर्ज करा दिया गया है और जल्द ही अभियुक्त पुलिस की गिरफ्त में होगें। वही इस बात की भी जांच की जायेगी क्या महिला कार सवारों को जानती थी। शीघ्र ही सच्चाई सबके सामने आयेगी।

रिपोर्ट : मो. अहमद चुनई

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY