नकल विहीन होगी हाईस्कूल व इंटर मीडिएट बोर्ड परीक्षाएंःडीएम

0
138


उरई-जालौन : सोलह मार्च से शुरू हो रही इलाहाबाद यूपी बोर्ड हाईस्कूल एवं इंटर मीडिएट की परीक्षाओं को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए जोनल, सेक्टर मजिस्टेªट एवं प्रधानाचार्य व केन्द्र व्यवस्थापकों के बीच जिलाधिकारी की अध्यक्षता में विकास भवन सभाकक्ष में आयोजित की गई। अपर पुलिस अधीक्षक ने सभी केन्द्रों पर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत रहेगी।

पूरे एक माह के बीच 16 मार्च से 21 अप्रैल तक चलने वाली इलाहाबाद यूपी बोर्ड हाईस्कूल व इंटर मीडिएट की परीक्षाएं शुरू हो रही है। उक्त परीक्षाओं में व्यवस्था को दुरुस्थ एवं नकल विहीन संपन्न करने के लिए जिलाधिकारी संदीप कौर ने जनपद के सभी 95 परीक्षा केन्द्रों के प्रधानाचार्य एवं केन्द्र व्यवस्थापक, जोनल मजिस्टेªट एवं सेक्टर मजिस्टेªट तथा उड़नदस्ता के बीच बैठक की। जिलाधिकारी संदीप कौर ने कहा कि नकल विहीन परीक्षाएं कराना जिम्मेदारों की जिम्मेदारी बनती है अगर किसी भी तरह की परीक्षा केन्द्र पर नकल कराने की सूचना मिलती है तो उसके खिलाफ परीक्षा अधिनियम के तहत कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं को किसी भी सेंटर पर किसी तरह की असुविधा न हो, सौ मीटर की दूरी पर वाहन पार्किंग व्यवस्था की जाए तथा बिजली, पानी, शौचालय की व्यवस्था दुरुस्थ हो। मोबाइल बैग जैसी अन्य सामग्रियों को रखने के लिए प्रत्येक सेंटर पर अलग से काउंटर बनाए जाए। परीक्षा की निगनारी में सात जोन एवं 15 सेक्टर मजिस्टेªट के अलावा उड़नदस्ता रखेगा। उक्त अधिकारी ही दोषी माने जाएगे जिन सेंटरों पर नकल होती पाई गई। सीडीओ एसपी सिंह ने भी केन्द्र व्यवस्थापक एवं प्रधानाचार्य को अस्वस्थ करते हुए कहा कि निर्भीक एवं निडर होकर परीक्षाएं संपन्न कराए। अपर पुलिस अधीक्षक सुभाष चंद्र शाक्य ने कहा कि संवेदनशील एवं अतिसंवेदनशील जैसे सेंटरों पर स्पेशल पुलिस बल नियुक्त किया जाएगा। परीक्षा केन्द्रों पर मोबाइल फोन प्रतिबंधित रहेगे। तलाशी के दौरान एवं पेपर खोलते समय तथा पेपर छटते समय पुलिस प्रत्येक सेंटर पर निगरानी रखेगी। उन्होंने कहा कि पादर्शिता होनी आवश्यक है विद्यालयों में शिकायत सामने आती है कि वह अपने कालेज के छात्रों को नकल करा रहे है। ऐसी स्थिति में विवाद उत्पन्न हो जाता है। इस तरह की किसी भी सेंटर पर न कराया जाए। उन्होंने शिकायती प्रकोष्ठ यानि कंट्रोल रूम मोबाइल नंबर 9454417454 पर सूचना देने के संकेत किए। उन्होंने 24 घंटे अपने मोबाइल पर सूचना देने की भी बात कही। केन्द्र व्यवस्थापकों ने भी अपने-अपने सुझाव रखे। इस मौके पर एडीएम आरके सिंह, डीआईओएस राजेन्द्र बाबू, पीडी चित्रसेन सिंह, एसडीएम उरई अक्षय त्रिपाठी, एसडीएम कालपी संजय कुमार सिंह, माधौगढ एसडीएम सुरेश चंद्र सोनी, कोंच एसडीएम मोइनउल इस्लाम, अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी कमलेश कुमार मौर्य, आलोक कुमार यादव, प्रशिक्षु आईएएसके अलावा केन्द्र व्यवस्थापक एवं सभी कालेजों के प्रधानाचार्य मौजूद रहे।

रिपोर्ट – अनुराग श्रीवास्तव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here