यूपी पुलिस ने चोटी काटने की घटना पर जारी की एडवाइजरी

0
52

भदोही (ब्यूरो) उत्तर प्रदेश सरकार ने पूर्वांचल और प्रदेश के दूसरे हिस्सों में महिलाओं की चोटी काटने की भ्रामक खबरों को गम्भीरता से लिया है । शुक्रवार को डीजीपी की तरफ़ से इस सम्बंध में राज्य के 70 जिलों की पुलिस को ‘एडवाइजरी’ जारी की गई है । मीडिया में आ रहीं खबरों महज एक अफवाह है करार देते हुए इस पर कतई ध्यान न देने की सलाह दी गई है । पूर्वांचल के कुछ जिलों में चोटी काटने की अफवाह तेजी से फैली है ।

राज्य की पुलिस को जारी निर्देश में कहा गया है कि इस प्रकार की अफवाह फैलाने वालों के बारे में तत्काल पुलिस को सूचना दें एवं कानून को अपने हाथ में न लें ।पुलिस अधीक्षक सचिन्द्र पटेल के निर्देश में जिले के सभी थानों की पुलिस को दिए गए निर्देश में कहा गया है कि  इस कृत्य में कोई संगठित गैंग संलिप्त नही है ।ग्रामीण शान्ति सुरक्षा समितियों और विशेष पुलिस अधिकारी के माध्यम से इस अफवाह का खण्डन किया जाए।जनपदीय पुलिस ऐसे शरारती तत्वों के विरूद्ध उचित वैधानिक कार्यवाही करेगी। सम्भ्रान्त नागरिकों , डिजिटल वालेंटियर एवं सोशल मीडिया पर सक्रिय व्यक्तियों से आग्रह है कि इस तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें एवं इसका अपने स्तर से भी खण्डन करें। पूर्वांचल एवं प्रदेश के कई जिलों में रात में सोई महिलाओं की चोटी यानी बाल कट जा रहे हैं । इस तरह की घटनाएँ टीबी और प्रिंट मीडिया में छायी है । महिलाओं और घरवालों में इसे लेकर दहशत है । जिस पर राज्य सरकार को ज़िला मुख्यालयों को निर्देश दिए गए हैं ।घटना को लेकर ग्रामीण अंचलों में दहशत है ।

रिपोर्ट – रामकृष्ण पाण्डेय

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY