दिल्ली के पूर्व पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी की यूपीएससी सदस्य के तौर पर नियुक्ति, आम आदमी पार्टी ने कहा बस्सी का एहसान चुकाया है मोदी सरकार ने

0
300

दिल्ली- दिल्ली पुलिस के पूर्व पुलिस कमिशनर बीएस बस्सी के संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) के सदस्य के रूप में नियुक्ति पर आम आदमी पार्टी ने निशाना साधा है | आम आदमी पार्टी के नेता आशुतोष ने कहा है कि बस्सी की इस नियुक्ति के बाद यह साफ़ हो जाता है कि बीएस बस्सी अभी तक भाजपा के वरिष्ट प्रवक्ता के रूप में दिल्ली में काम कर रहे थे | उन्होंने कहा है कि बस्सी के रिटायर होने के बाद अब उनकी संघ लोक सेवा आयोग में 5 सालों के लिए की गयी नियुक्ति यह साफ कर देती है कि बस्सी का एहसान भाजपा ने चुकाया है |

दिल्ली के पूर्व पुलिस आयुक्त का कार्यकाल काफी विवादों से भरा रहा है –
दिल्ली के पूर्व पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर का पद 2013 में संभाला था और वे फरवरी 2016 तक दिल्ली के पुलिस कमिश्नर रहे | अपने कार्यकाल के दौरान भीम सेन बस्सी कई विवादों में घिरे रहे खासकर के बीते साल में बस्सी के कार्यकाल के दौरान ही आम-आदमी पार्टी के 5 विधायकों को अलग-अलग मामलो में गिरफ्तार भी किया गया था | अब बस्सी के रिटायर होने के बाद केंद्र सरकार द्वारा संघ लोक सेवा आयोग के सदस्य के तौर पर उनकी नियुक्ति पर आम आदमी पार्टी ने निशाना साधा है |

आम आदमी पार्टी ने साधा निशाना-
बीएस बस्सी की नियुक्ति पर आम आदमी पार्टी ने निशाना साधते हुए कहा है कि, ‘दिल्ली के पूर्व पुलिस आयुक्त की इस तरह से नियुक्ति से यह साफ़ हो जाता है कि केंद्र सरकार ने भाजपा के वरिष्ट प्रवक्ता का एहसान चुकाया है | आम आदमी पार्टी के नेता आशुतोष ने कहा है कि नियुक्ति सरकार का विशेषाधिकार है लेकिन मिस्टर बस्सी की इस नियुक्ति से यह साफ़ हो गया है कि मिस्टर बस्सी किसके इशारे पर दिल्ली में काम कर रहे थे | आप नेता आशुतोष का इशारा साफ़ तौर पर बीजेपी की तरफ था | आम आदमी पार्टी का कहना था की दिल्ली पुलिस भाजपा के इशारे पर काम करती है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY