रेड लाइट जंप करने पर उत्तराखंड के डीजीपी की कार का चालान

0
36

देहरादून (ब्यूरो) – पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अनिल रतूड़ी की निजी कार का सिटी पेट्रोल यूनिट ने रेड लाइट जंप करने पर चालान काट दिया। कार में मौजूद डीजीपी ने मौके पर ही चालान भुगतकर यह संदेश भी दे दिया कि कानून से बड़ा कोई नहीं है। नियमों की अनदेखी करने पर किसी पर भी कार्रवाई हो सकती है।

दरअसल, रविवार दोपहर डीजीपी अनिल के रतूड़ी अपनी की निजी कार से राजपुर रोड स्थित दिलाराम चौक से गुजर रहे थे। चौक से गुजरने के दौरान ट्रैफिक सिग्नल रेड हो गया तो चालक ने गाड़ी जेब्रा क्रासिंग से थोड़ा आगे बढ़ा दी। चौक पर मौजूद दारोगा व सिपाही ने कार को रोककर उसकी रिकार्डिंग शुरू कर दी। मगर कार के रुकते ही जब उसमें से डीजीपी उतरे तो दोनों के होश फाख्ता हो गए।

डीजीपी ने सीपीयू से चालान काटने को कहा। इसके बाद सिपाही ने कार का एमवी एक्ट के तहत चालान कर दिया। डीजीपी ने मौके पर ही चालान की सौ रुपये की धनराशि सीपीयू को दी और विनम्रतापूर्वक वहां से चले गए। इस मामले में यातायात निदेशक केवल खुराना ने कहा कि डीजीपी ने यातायात नियम के उल्लंघन की स्थिति में चालान भरकर यह संदेश दिया है कि आम हो या खास नियम और कानून सबके लिए बराबर हैं।

छुट्टी में निजी कार का करते हैं प्रयोग डीजीपी अनिल के रतूड़ी ने सहजता और सादगी को लेकर अफसरशाही में अलग पहचान बना रखी है। डीजीपी अवकाश के दिन सरकारी गाड़ी का प्रयोग न कर निजी कार का प्रयोग करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here