वाराणसी पुलिस ने पेश की मानवता की मिसाल

0
88

वाराणसी(ब्यूरो)- अमूमन निष्ठुरता के लिए जाना जाने वाले पुलिस विभाग ने जंसा के चौखंडी में मानवता की बड़ी मिसाल पेश की। वही लोगों के जान की रक्षा करने के लिए जाना जाने वाला 108 एंबुलेंस में निष्ठुरता की सारी हदें पार कर दी। एंबुलेंस चालक की निष्ठुरता के चलते घायल की इलाज में देरी होने से मौत हो गई।

जंसा थाना क्षेत्र के चौखंडी में चोलापुर निवासी युवक का ट्रेन की चपेट में आने से दोनों पैर कट गया। बुरी तरह घायल युवक को अस्पताल ले जाने के लिए पुलिस तथा स्थानीय ग्रामीण बार बार 108 नंबर पर फोन करते रहे, लेकिन मौके पर एंबुलेंस नहीं आई। थानाध्यक्ष जंसा संतोष राय ने मौके पर पहुंचते ही बिना विलंब किए अपनी जीप से हाथी स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। तब तक एंबुलेंस भी हाथी स्वास्थ्य केंद्र पहुंच चुका था। घायल की स्थिति अत्यंत गंभीर होने के चलते डॉक्टर ने उसे मंडली अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। लोग जब तक एंबुलेंस बुलाने के लिए अस्पताल के गेट पर पहुंचते उससे पहले ही बिना किसी को बताए चालक एंबुलेंस लेकर चला गया। कोई व्यवस्था नहीं सूझने पर अपने पीआरबी वेन से मंडलीय अस्पताल भिजवाया। लेकिन अस्पताल पहुंचते-पहुंचते उसकी मौत हो गई।

रिपोर्ट- सर्वेश कुमार यादव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY