विजय माल्या ने राज्य सभा से दिया स्तीफा

0
334

दिल्ली- देश के मशहूर उद्योगपति और शराब कारोबारी विजय माल्या ने देश के उपरी सदन राज्यसभा से स्तीफा दे दिया है | बता दें कि विजय माल्या के ऊपर देश की कई बैंकों से तकरीबन 9000 करोंड से भी ज्यादा लोन लेने और फिर उसे वापस न करने का आरोप है | हालाँकि आपको बता दें कि विजय माल्या पहले ही बीते 2 मार्च को ही देश छोड़कर बाहर जा चुके है और उन्होंने अपना स्तीफा राज्य सभा के अध्यक्ष उपराष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी को भेजा है |

निष्पक्ष न्याय न मिलने का लगाया है आरोप –
बता दें कि एक राज्यसभा सांसद के तौर पर विजय माल्या का यह दूसरा कार्यकाल है और यह भी इसी वर्ष जुलाई में पूरा होना था लेकिन इससे पहले ही देश की 13 प्रतिष्ठित बैंकों ने माल्या के रवैये से तंग आकर सुप्रीमकोर्ट जाने का निर्णय कर लिया था | बैंकों के सुप्रीमकोर्ट जाने के बाद ही तुरंत विजय माल्या ने बीते 2 मार्च को देश छोड़कर चले गए | बताया यह भी जा रहा है कि माल्या ब्रिटेन में छिपे हुए है |

इसे भी पढ़ें – परियों हूरों के साथ चलने वाला, 1किमी दूर से दिखने वाला माल्या गायब कैसे हो गया – गुलाम नबी आज़ाद

माल्या ने भारत सरकार और भारत की कानून ब्यवस्था पर एक आरोप लगाते हुए कहा है कि मै यह बहुत अच्छी तरह से जानता हूँ कि अब भारत वर्ष में मुझे अच्छी तरह से न्याय नहीं मिल पायेगा | उन्होंने यह भी कहा है कि फिलहाल अभी उनका भारत वापस आने का कोई भी प्लान नहीं है |

और पढ़ें – विजय माल्या ने इस बार दिया 6468 करोंड रूपये का ऑफर

राज्यसभा की एथिक्स कमेटी खुद ही कर रही थी निकालने का फैसला –
ज्ञात हो कि राज्य सभा की एथिक्स कमेटी के पास पहले ही यह मामला जा चुका है और बता दें कि एथिक्स कमेटी के अध्यक्ष कर्ण सिंह ने ही सबसे पहले विजय माल्या को पत्र लिखकर उनसे जवाब माँगा था जिसके बाद में ही माल्या ने उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी को एक पत्र लिखकर अपने स्तीफे की बात कही है |

यह भी जान लीजिये कि, “5 अप्रैल को एथ‍िक्स कमेटी के अध्यक्ष कर्ण सिंह ने कहा था, ‘माल्या ने लगातार वारंट को नजरअंदाज करके गुनाह किया है, लेकिन फिर भी हम निष्पक्ष न्याय की प्रक्रिया के तहत सात दिनों का समय दे रहे हैं | अगर वह समय रहते पेश नहीं होते तो सदन जरूरी कदम उठाएगा |”

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here