गली में जमा नाबदान के पानी को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश, ग्रामीणों ने किया चक्का जाम

0
29

शहाबगंज/चन्दौली ब्यूरो- थाना क्षेत्र के जमोखर गांव में मुस्लिम बस्ती में नाबदान का गंदा पानी जमा होने से नाराज ग्रामीणों का सब्र जबाब दे गया और रविवार सुबह सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणों ने चकिया चन्दौली मार्ग जाम कर दिया जाम की सुचना मिलते ही पुलिस प्रशासन का हाथ पाव फूल गया। वहीं शहाबगंज में प्रमुख के चुनाव में ड्यूटी करने जा रही पुलिस की गाडी भी जाम में फस गयी।

सूचना पाकर पहुंचे थाना प्रभारी अरविन्द कुमार सिसोदिया ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर जाम समाप्त कराया।जमोखर गांव के मुस्लिम बस्ती में जल निकासी के लिए ग्रामपंचायत से नाली का निर्माण कराया गया।लेकिन धरौली,बबुरी मार्ग के चौडी करण में नाली का पानी अवरुद्ध हो गया।जिसके कारण घरो से निकलने वाला गंदा पानी गली में जमा होकर बहने लगा।वही जमा पानी नीजी खेत में बहने के कारण किसान गली को पुरी तरह बांध दिया।जिसका पानी गली में जमा हो गया।जिसके कारण पुरी गली तालाब में तब्दील हो गया, जिसके कारण बस्ती में डायरिया फैलने के की आशंका पैदा हो गयी है। अन्य संक्रामक बीमारी होने की संभावना पैदा हो गयी है, वही गंदे पानी से होकर बस्ती के लोग गुजरने को विवश है। इस तरह का नारकीय जीवन ग्रामीण विगत छ: माह से गुजार रहे हैं, जबकि पानी निकासी को लेकर ग्रामीणों ने एसडीएम से लेकर डीएम तक प्रार्थना पत्र देकर गुहार लगा चुके हैं, लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकला।जिससे परेशान होकर ग्रामीणों ने चकिया-चन्दौली मार्ग जाम कर दिया। जाम की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन के हाथ पाव फूल गए । सूचना पाकर पहुंचे थाना प्रभारी अरविन्द सिसोदिया ने ग्रामीण को समझा बुझाकर जाम समाप्त कराया, वहीं मौका मुवायना कर पानी निकासी कराने का आश्वासन दिया। इस दौरान जोखन अंसारी, क्यामुद्दीन, जैनुल, मालधनी गुप्ता, पारस, सदामुद्दीन, सन्नौवर, गुलाम गौस, सेराजुद्दीन, इस्लाम, सुनिर सहित आदि ग्रामीण उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – इबरार अली

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY