ग्रामीणों ने मनरेगा व विकास योजनाओं में गबन की जांच के लिए डीएम को दिया प्रार्थनापत्र

0
48

बीघापुर/उन्नाव ब्यूरो: तहसील क्षेत्र के सुमेरपुर विकास खण्ड की पहाड़पुर ग्राम सभा में पिछले दिनों ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान पर मनरेगा व अन्य विकास की योजनाओं में भारी गबन करने का आरोप लगाते हुए मुख्य विकास अधिकारी व जिलाधिकारी से लिखित शिकायतें की थीं। जिसमें यह भी कहा गया था कि ग्राम प्रधान के द्वारा किए गए सरकारी धन के गबन की शिकायत करने पर प्रधान द्वारा झूठे मुकदमें में शिकायतकताओं को फंसाने की धमकी भी दी जा रही है। जिस पर सीडीओ ने भ्रष्टाचार की जांच करा कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने का आश्वासन भी दिया था। इस बीच गांव में कार्ययोजना को लेकर खुली बैठक भी आयोजित की गई जिसमें ग्राम प्रधान ने खुद को दलित वर्ग का होने के कारण लोगों द्वारा अनावश्यक रूप से परेशान करने की बात कह कर पहले से ही पुलिस बल को बुला लिया था और कार्ययोजना में ग्रामीणों द्वारा कराए गए कार्यों के जवाब मांगने पर ग्रामीणों को पुलिस के बल पर चुप कराने का भी कार्य किया गया।जिससे ग्रामीणों में आक्रोष और बढ़ गया।

ग्रामीणों का कहना है कि ग्राम प्रधान कई वर्श पूर्व मर चुके लोगों के नाम भी मनरेगा जाॅबकार्डों में चढ़ा कर रुपयों का गबन कर रहा है।इसके अलवा खड़ंजे में पुरानी ईंटों का प्रयोग किए जाने, विद्यालय की सोलर लाइट उखड़वा कर अपने दरवाजे लगवा लेने जैसे तमाम अरोप लगाए थे।इसके बाद ग्राम प्रधान ने बैठक को बीच में ही भंग कर सवाल उठा सहे ग्रामीण बीनू सिंह के विरुद्ध पुलिस चैकी में ग्राम प्रधान धीरज निर्मल ने अपने खिलाफ गाली गलौज व जाति सूचक षब्द  प्रयोग किए जाने की तहरीर दे दी।जिससे माहौल और बिगड़ गया था।उसके बाद लगभग दर्जनों  ग्रामीणों ने पुनः इस मामले की षिकायत सीडीओ से कि जिसमें गोविन्द बहादुर सिंह, बीरेन्द्र सिंह, भोले पाण्डेय, अतुल सिंह, अमित पाण्डेय, सुरेन्द्र सिंह, राम सहाय,दीपू सिंह , बच्चा सिंह, विनीत पाण्डेय,प्रमिला सिंह आदि थे।29 मई 2017 को ग्रामीण गोविन्द सिंह ने एक आरटीआई के माध्यम से गांव में कराए गए विकास कार्यों की जानकारी  के सम्बन्ध में जिलाधिकारी कार्यालय से सूचना भी मांगी थी, वह भी अभी नहीं मिली।वहीं इतनी षिकायतों के बाद भी अभी तक कोई भी जांच नहीं हुई है भ्रश्टाचार के सम्बन्ध में।जिससे ग्रामीणों में आका्रेष और बड़ रहा है।

रिपोर्ट – रामजी गुप्ता 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here