कालाबाजारी को जा रही बाढ़ राहत सामग्री को ग्रामीणों ने पकड़ा

0
139

सुरेमनपुर/बलिया (ब्यूरो) – रेवती थाना क्षेत्र के शिवाल मठिया गांव के सामने गुरूवार को भोर में तीन बजे के लगभग पिकप पर लादकर काला बाजारी के लिए जा रहा बाढ़ राहत सामग्री ग्रामीणों व विधायक सुरेन्द्र सिंह द्वारा पकड़ा गया। पकड़े गये सामान की कीमत लगभग दो लाख रूपये बताया गया। मौके पर एसडीएम बैरिया बच्चालाल दुबे, तहसीलदार गुलाब चन्द्रा व थानाध्यक्ष रेवती राकेश सिंह पहुंचे। सामान कब्जे में लेकर रेवती पुलिस थाने ले गई। जहां बच्चा लाल यादव की तहरीर पर पांच लोगों पर नामजद धारा 409, 419, 420, 467, 468, 471 भा द वि अन्तर्गत मुकदमा पंजीकृत कर पुलिस धर पकड़ के लिए हाथ पांव मार रही है।

गौरतलब है कि बीते 6 सितम्बर को गोपालनगर गांव में प्रभारी मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बाढ़ पीड़ितों में राशन सामग्री वितरण का शुभारम्भ किया था। गोपालनगर व आसपास के गांवो के लिए राहत सामग्री उपलब्ध करा दिया गया था। जो प्रधान व लेखपाल की देखरेख में बंट रहा था। क्षेत्र पंचायत सदस्य भृगुनाथ यादव व अमरजीत साहनी ने बताया कि राहत सामग्री की कालाबाजारी हो रही थी। हम लोग रात में निगरानी कर रहे थे। रात में दो बजे के लगभग प्रधान के दरवाजे पर खड़ी पिकप निकली और सुरेमनपुर की तरफ तेजी से गई। दूसरी पर सामान लादा जा रहा थी। हम लोगों ने विधायक सुरेन्द्र सिंह को फोन पर सूचना दी तो विधायकजी ने कहा कि उस पिकप को जाने मत दीजियेगा।

हम मौके पर पहुंच रहे है। लगभग तीन बजे मोटर सायकिल से विधायक अधिकारियों व कार्यकर्ताओं को बुलाते हुए शिवाल मठिया गांव के सामने पहुंचे। तब तक वहां काफी लोग जुट गए थे तथा पिकप नम्बर यूपी 60 टी 3009 को अमरजीत साहनी व भृगुनाथ यादव के संग सड़क पर रोक दिया गया। चालक को भी रोक लिया गया। उधर पुलिस अधीक्षक व जिलाधिकारी के निर्देश पर एसडीएम व तहसीलदार तथा रेवती थानाध्यक्ष भी मौके पर पहुंचे। पिकप की तलाशी में उस पर राहत सामग्री का पैकेट हटाकर 21 बोरों में भरा लगभग दो लाख रूपए कीमत का आटा, चावल, चना, रिफाइन तेल, दाल, नमक, मसाला, मोमबत्ती, माचिस माचिस था।

दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई
बैरिया – विधायक सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि हमारी सरकार जिसके लिए जो सुविधा दे रही है। उसमे किसी तरह की लापरवाही किसी कीमत पर नहीं होने देगे। रात में जैसे ही हमे सूचना मिली हम कार्यकर्ताओं के जगा कर यहा आने की सूचना देते हुए फोन से जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को भी सूचना दिए। और यहां पहुंचे। हमारे कार्यकर्ता किसी भी समय जनहित के कार्यों के लिए तत्पर हैं। यहां प्रधान, लेखपाल, कोटेदार, गाड़ी चालक चाहे चाहे जो दोषी हो उस पर कार्यवाही होगी।

रिपोर्ट श्रीमन तिवारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here