आंगनबाड़ी केन्द्र के दुर्व्यवस्था के खिलाफ ग्रामीणो का प्रदर्शन

0
81

इलिया/चन्दौली(ब्यूरो)- क्षेत्र के भुड़कुड़ा गांव स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र की दुर्व्यवस्था से क्षुब्ध ग्रामीणों का धैर्य सोमवार को जवाब दे दिया। नाराज दर्जनों ग्रामीण एकजुट होकर केन्द्र पहुंच गए और प्रदर्शन कर विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र का गर्भवती महिलाओं व शिशुओं को लाभ नहीं मिल पा रहा है। विभाग के माध्यम से संचालित योजनाएं पिछले मार्च माह से बंद पड़ी हुईं हैं। केन्द्र भवन मरम्मत व देखरेख के अभाव में ध्वस्त होने के कगार पर पहुंच गया है। कल्याणकारी योजनाओं के बंद होने से कुपोषण की समस्या खड़ा होना तय है। कहा कि सरकारें कुपोषण को दूर करने के लिए गंभीर हैं।

केन्द्र के संचालन को लेकर विभागीय अधिकारी गंभीर नहीं हैं। भवन निर्माण के कुछ माह बाद से जर्जर हाल में पहुंचना शुरू हो गया। फर्श का प्लास्टर उखड़ गया है और खिड़कियां उखाड़ लिए गए हैं। बच्चे यहां आकर बगैर प्रारंभिक शिक्षा ग्रहण किए वापस लौट जाते हैं। आरोप है कि केंद्र पर कार्यकर्ता कभी-कभार आते हैं।

इस समस्या लेकर विभागीय अधिकारियों व तहसील दिवस पर कई बार शिकायत किया जा चुका है। एक बार जिम्मेदार अधिकारी आए भी तो जांच के नाम पर महज कोरमपूर्ति कर चले गए थे। योजनाओं के ठप होने की विभाग से जानकारी लेने पर पता चला है कि बजट नहीं है।

कहा कि गर्भवती महिलाओं व शिशुओं का टीकाकरण भी कागजों पर सिमट कर रह गया है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व आशा इनके स्वास्थ्य का ख्याल नहीं रखती हैं। ग्राम पंचायत के राजस्व गांव बटौवां में स्थित उप स्वास्थ्य केंद्र भी बदहाल पड़ा हुआ है।

यहां मवेशियों का पशुचारा रखकर कब्जा कर लिया गया है। इस समस्या से भी संबंधित विभाग के अधिकारियों से शिकायत की गई। बताया कि प्रसव पीड़ित महिलाओं को प्रसव कराने के लिए दूरी तय करनी पड़ती है।

चेताया यदि समस्याओं का निदान नहीं हुआ तो आन्दोलन का रूख अख्तियार किया जाएगा। प्रदर्शन की जानकारी होने पर पहुंचे समाजसेवी झन्ने खां ने लोगों को समझा बुझाकर आक्रोशित लोगों को शांत कराया। वहीं आन्दोलन की सूचना लगते ही कार्यकर्ता व सहायिका यहां पहुंच गईं थीं।

प्रदर्शन करने वालों में आशिक खां, शैलेश कुमार, फकीर विश्वकर्मा, शिवपरसन प्रसाद, आफताब आलम, नसीम, अतीकुर्रहमान आदि शामिल थे।

रिपोर्ट-ठाकुर मिथिलेश/सद्दाम खां

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here