एक ही ग्रामसभा में दो देशी शराब की दुकानें खोलने के विरोध में ग्रामीणों का हंगामा और तोड़फोड़

0
74


वाराणसी (ब्यूरो)- चोलापुर थाना अंतर्गत भोहर गांव में सोमवार को निर्माणाधीन देसी शराब की दुकान पर ग्रामीणों ने जमकर उत्पात मचाया और तोड़फोड़ की ग्रामीणों पर गुस्सा इस तरह हावी था कि निर्माणाधीन देसी शराब के ठेके पर लगे हुए टिन सेड, खिड़की सभी तोड़ डाले और हंगामा किया। उनका कहना था कि एक ही गांव में दो देसी की शराब की दुकानें नहीं खुल सकती। एक शराब की दुकान तो पहले से ही मौजूद है जो शराबियों का अड्डा बना हुआ है, दूसरा खुल जाने के बाद गांव की बहू बेटियों का निकलना दुर्भर हो जाएगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सरकार के आदेशानुसार शराब के ठेके को हाईवे से 500 मीटर की दूरी पर आबादी से दूर खोलने का प्रस्ताव है। जबकि ग्रामीणों का कहना था कि 300 मीटर के अंदर ही दुकान खुल रही है इस संबंध में दुकानदार मोहन सिंह से जब ग्रामीणों ने बात की उन्होंने बहाना बना दिया कि सामान रखा जाएगा ना की बिक्री होगी। लेकिन आज जब इस निर्माणाधीन मकान में खिड़की लगी तब ग्रामीणों का गुस्सा सातवें आसमान पर हो गया और वह मौके पर पहुंचकर तोड़फोड़ करने लगे और हंगामा मचाया। घटना के बाद मोहन सिंह ने चोलापुर थाने जा कर इसकी शिकायत दर्ज कराई। जिसके बाद चोलापुर थानाध्यक्ष विनय प्रकाश सिंह ने दोनों पक्षों को थाने पर बुलाया। दुकानदार का कहना है की वह यह किसी दुकान के लिए नहीं बना रहे हैं बल्कि अपने रहने के लिए बना रहे हैं,जबकि थानाध्यक्ष चोलापुर का कहना है की मानक के विपरीत किसी भी स्थिति में कोई दुकान नहीं खोलने दिया जाएगा और ना ही कानून को अपने हाथ में लेने वालों को बख्शा जाएगा । फिलहाल मोहन सिंह ने दुकान न खुलने की बात कही है इसके बावजूद भी यदि वह दुकान खोलते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। विरोध करने वालों में गांव के राजकुमार, रामाश्रय मौर्या, पारस राजभर, कृष्णावती,शारदा, अनीता और तारा देवी आदि प्रमुख रूप से शामिल थे।

रिपोर्ट – सर्वेश कुमार यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here