ग्रामीण बनवायें शौचालय और उनका प्रयोग करें जिलाधिकारी

0
76


मैनपुरी ब्यूरो : आधुनिक युग में आज भी ग्रामीण ख्ुाले में शौंच जा रहे है। तमाम लोगो को स्वच्छ शौचालय योजना में लाभान्वित कर शौचालय बनायेे गये हैं , परन्तु अधिकांश लोगो द्वारा शौचालयों का प्रयोग नहीं किया जा रहा है,शौचालयेा में सामान भरा है कई शौचालय टूट चुके हैं। यह स्थिति दयनीय है ,ग्रामीण शौचालय बनवाये और उनका प्रयोग करें ,घर की बहू-बेटियों को शर्मिन्दगी से बचायें साथ ही खुले में शौच से होने वाली बीमारियो ,गन्दगी से बचे, गांव को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान दें। ग्राम में मौजूद सरकारी भवन,सार्वजनिक भूमि पर अनाधिकृत कब्जा न करें, ग्रामीण विद्युत की चोरी न करें बल्कि कनेक्शन लेकर विद्युत का उपयोग करें।

उक्त उद्गार जिलाधिकारी यशवन्त राव ने ग्राम मोहनपुर,व्योतिखुर्द, ललूपुरा, नगलाशीष एवं गढ़िया का औचक निरीक्षण करते हुए ग्रामीणों से सीधे संवाद करते हुए व्यक्त किये। उन्होने सभी गांव में सफाई का अभाव पाया, ग्राम की अधिकांश नालियों में गन्दगी भरी पड़ी थी, गलियो में भी कूड़े के ढेर मिले, ग्रामीणो ने बताया कि सफाई कर्मी 15-15 दिन तक नहीं आता। उन्होने गांव मोहनपुर के निरीक्षण के दौरान पाया कि वर्ष 2010-11 में ग्राम के राजेश,अलिकेश, आरती, राजपाल को इन्द्रा आवास आवंटित हुए थे, आवास तो बने है परन्तु अभी तक उन आवासों मे ंन तो जंगले,खिड़की लगे है और ना ही प्लास्टर हुआ है गांव में जो शौचालय बने वह मानक के अनुसार नहीं है। राजेश राजपाल के शौचालय बन्द मिले, इनका प्रयोग नहीं किया जा रहा है वहीं कुंवरपाल जुगेन्द्र के परिजनो द्वारा शौचालय का प्रयोग किया है, ग्राम में स्थापित अम्बेडकर सामुदायिक केन्द्र की दशा खराब है ,ग्रामीणो ने बताया कि केन्द्र हमेशा बन्द रहता है, केन्द्र का समर भी चोरी हो गया है, हैण्डपम्प भी खराब पड़ा है। ग्राम में बने आदर्श तालाब की दुर्दशा मिली तालाब के चारो ओर अवैध अतिक्रमण है तालाब की फैन्सिग के तार भी चोरी होना बताया गया है,तालाब में पानी भी नहीं था।

श्री राव को व्येातिखुर्द में स्थापित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र 1.30 बजे बन्द मिला, परिसर में बने आवासों की हालत काफी खराब थी,किसी भी आवास मे दरवाजे खिड़की नहीं मिले, आवासों मे चारो ओर गन्दगी के अम्बार लगे मिले, गांव की सफाई व्यवस्था से संतुष्ट दिखे। ललूपुरा में कमोवेश मोहनपुरा जैसे हालत मिले ,नालियेां,गलियो में गन्दगी के ढेर लगे पाये गये अधिंकांश लोगो द्वारा शौचालय का प्रयोग भी नहीं किया जा रहा है कई स्थानों पर नाली टूटी मिली,खड़जों की भी स्थिति खराब मिली। गांव के अधिकांश हैण्डपम्प चालू हालत में मिले। उन्होने उपस्थित ग्रामीणों से कहा कि वह बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान दें उन्हें प्रतिदिन स्कूल भेजे,शिक्षकों के विद्यालय न आने पर संज्ञान में लाये अपने-अपने घरों के समने स्वयं सफाई करें, गलियों,नालियो में गन्दगी न फैलायें, गांव को स्वच्छ बनाने में सहयोग करें।

जिलाधिकारी ने नगलाशीश के निरीक्षण में भी गन्दगी मिली,हैण्डपम्प के पानी का निकास भी नहीं मिला,नाली पूरी तरह बन्द मिली ग्राम में विद्युत चोरी का मामला भी प्रकाशा में आया,स्वच्छ शौचालय योजना में बिठोलादेवी,छेदालाल,दयाराम के शौचालय क्षतिग्रस्त पाये गये। कलट्टर सिंह के मकान के सामने लगा हैण्डपम्प खराब मिला, ग्रामीणांे ने बताया कि गांव के हैण्डपम्पों का पानी खराब है। उन्होने ग्रामीणो से वार्ता करते हुए लहसुन की खेती की जानकारी की,ग्रामीणो ने बताया कि ग्राम में अधिकांश किसानो द्वारा लहसुन किया जाता है,बाजार में अच्छे लहसुन के दाम 04 हजार रू. प्रति कुन्टल तक है,गढ़िया में सभी हैण्डपम्प चालू हालत में मिले ,सुभाष त्रिपाठी के घर के बराबर नाली बन्द मिली। उन्होने दलित बस्ती में जाकर घरो के अन्दर बने शौचालयों का भरी दोपहर में निरीक्षण किया, घरो मे शौचालय तो बने पाये गये परन्तु उनका प्रयोग कम ही लोगो द्वारा करते पाया गया।

रिपोर्ट – दीपक शर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY