पेयजल के लिए ग्रामीण कर रहे रतजगा

0
35


मऊरानीपुर (झाॅसी ब्यूरो) : 15 अप्रेल से गर्मी ने अधिक जोर पकड लिया है। जिससे लगे सरकारी हैण्डपम्पों का लगातार जल स्तर नीचे गिरने से ग्रामीणों को पेयजल के लिए रतजगा करना पड रहा है। पूर्व मे ग्राम पेयजल योजना के तहत बनायी गयी पानी की टकी के लिए बोर मे पानी न होने से शोपीस बनकर रह गयी है।जिससे ग्रामीणों को पानी के लिए भारी मशक्कत करना पड रहा है। मऊरानीपुर ब्लाॅक क्षेत्र के ग्राम पंचमपुरा मे करीब 8 वर्ष पूर्व ग्राम पेयजल योजना के तहत बोर के साथ पानी की टंकी बनवाकर गाॅव मे ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने की योजना बनायी गयी थी। लेकिन पहाड होने के कारण टंकी का जल स्तर गिर जाने एवं ट्रान्सफार्मर खराब हो जाने से एक साल से पम्प हाऊस बन्द पडा हुआ है।

आॅपरेटर पुष्पेन्द्र रावत ने बताया कि दो मे से एक की मोटर खराब तथा दूसरे मे पानी नही है। जिससे गाॅव मे पानी की किल्लत हेाने की सूचना कई बार जलनिगम व एसडीएम को दी गयी। वहीं गाॅव मे लगे अधिकाॅश हैण्डपम्पों का पानी नीचे चले जाने से ग्रामीणों को भारी मशक्कत के बाद पीने का पानी उपलब्ध हो पाता है। प्रधान पति ने बताया कि दूसरे जगह के लिए मोटर को ठीक कराया जा रहा है। साथ मे ब्लाॅक के बडागाॅव, बुखारा, परसारा, खरकामाफ, कंजा चितावत, रौनी, सिंगरवारा, हीरापुर, सिद्धपुरा ,कुशवाहा खिरक आदि ग्रामो मे लगे हैण्डपम्प भी जबाब देने लगे है। क्षेत्र बासियो ने सम्बंिधत विभाग से टैंकर भिजवाये जाने की माॅग की।

रिपोर्ट – रवी परिहार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY