कथित शिवसेना कार्यकर्ताओं द्वारा दलितों की पिटाई के बाद सड़कों पर उतरा दलित समाज, दो बसें फूंकी |

0
637
2002-Gujarat-riots
प्रतीकात्मक
गुजरात के वेरवाल में शिवसेना के लोगों द्वारा जानवरों की खाल उतार रहे दलितों की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद गुजरात में दलित समाज सड़कों पर उतर आया है, दलित समाज के उग्रप्रदर्शनों के चलते पूरे गुजरात में स्थिति तनावपूर्ण हो गयी है |
पुलिस के अनुसार सोमवार को दलितों ने उग्र प्रदर्शन किये थे और दलित समाज के सात लोगों ने आत्महत्या की कोशिश भी की थी, जिसके बाद प्रदेश की मुख्यमंत्री आनंदी बेन ने मामले की CID जांच के आदेश दिए हैं |
भड़के हुए लोगों ने सोमवार रात को गोंडल, धोराजी और जूनागढ़ हाईवे पर दो सरकारी बसों में आग लगा दी और राजमार्ग पूरी तरह से जाम कर दिया | स्थिति को काबू में करने के लिए स्टेट रिजर्व पुलिस तैनात कर दी गयी है |
दलित समाज के लोगों ने अपना गुस्सा ज़ाहिर करने के लिए मरे हुए जानवरों को सरकारी दफ्तरों के सामने डालना शुरू कर दिया है, साथ ही राज्य के कई दलित संगठनों ने 20 जुलाई को गुजरात बंद का ऐलान किया है |
इसे भी पढ़ें – जम्मू-कश्मीर से जुड़े इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने दिया ऐतिहासिक फैसला |
मुख्यमंत्री आनंदी बेन |ने पीड़ित युवकों को चार-चार लाख रुपये देने और मामले पर जल्द फैसले के लिए विशेष अदालत बनाने की घोषणा की है |
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here