वीआईपी जिले की सड़कें ही गड्ढ़ा युक्त

0
105
                                                                 प्रतीकात्मक फोटो

ऊंचाहार/रायबरेली ब्यूरो- यूपी के सीएम के आदे के बावजूद पीडब्लूडी विभाग की लापरवाही से जमुनापुर से चडरई मार्ग में गड्ढे ही गड्ढे हैं, जिससे आने-जाने वाले गंगा स्नान करने वाले श्रद्धालुओं से लेकर राहगीर को जान जोखिम में डालकर ही आना जाना होता है।

ऊंचाहार ब्लाक क्षेत्र के अन्तर्गत चडरई से जमुनापुर मार्ग गया है, जिस मार्ग पर गड्ढे ही गड्ढे हैं | जिन गड्ढों मे भरे बरसात के पानी के कारण इस मार्ग से आने-जाने के लिये स्कूली बच्चों के आलावा ये मार्ग बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है क्योकि ये मार्ग गोकना व तीरकापुरवा गंगाघाट तक जमुनापुर से गया है। जिसके कारण भादव होने पर भादव में रविवार के दिन स्नानार्थियों का जत्था गंगा तटों पर आना जाना होता है | यही नहीं जन्माष्टमी पर्व पर भी स्नार्थियों का भारी संख्या मे आना जाना होगा लेकिन उनके आने-जाने वाले मार्ग गड्ढो में तब्दील होने पर हादसा होने की संभावना बनी हुई है।

सीएम के द्वारा चलाये गये अभियान मे 15 जून 2017 तक गड्ढेमुक्त होने का दावा भी यहां पर असर नहीं डाल सका है। जून माह बीत चुका है जिसके बाद अगस्त माह की शुरूआत हो गयी है लेकिन मार्ग की दशा जस की तस गड्ढा युक्त ही बनी हुई है। जिसमें साफ-साफ पीडब्लूडी विभाग की लापरवाही प्रथम दृष्टयः सामने आ रही है। एसडीएम मदन कुमार ने बताया कि गंगातट को जोड़ने वाले मार्ग के गड्ढे क्यों नहीं पाटे गये इसके संदर्भ मे पीडब्लूडी विभाग के खिलाफ विभागी लिखा-पढ़ी की जायेगी क्योंकि समय पर क्यों गड्ढों को पाटा नहीं गया है, ये गंभीर विषय है जिसमें पीडब्लूडी विभाग की लापरवाही साफ-साफ सामने आ रही है।

रिपोर्ट – अनुज मौर्य /सर्वेश रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here