पुलिस के वालंटियर ग्रुप में पीएम व सीएम को अपशब्द कहने वाला विडियों हो रहा वायरल

0
98


बलिया (ब्यूरो) : अब उत्तर प्रदेश की पुलिस पर यह आरोप लगता रहा है कि वह सत्ताधारी दल के नेताओं के इशारे पर कार्य करती है और उसकी नीतियों को आगे बढ़ाने का सशक्त माध्यम होती है, लेकिन बलिया के बांसडीह रोड थाना पुलिस इसके विपरित कार्य कर रही है। पुलिस के वांलटियर ग्रुप में आये दिन वायरल हो रही वीडियों में केन्द्र सरकार के मुखिया एवं प्रधानमंत्री मोदी व प्रदेश सरकार के सर्वेसर्वा योगी आदित्य नाथ के खिलाफ न सिर्फ अमर्यादित टिप्पणी की जा रही बल्कि पूर्ववती अखिलेश सरकार की नीतियों का बखान भी होता नजर आ रहा है। जिससे प्रदेश सरकार द्वारा अफवाहों को रोकने के लिए बनाया गया डिजीटल वालंटियर ग्रुप न सिर्फ अपने उद्देश्य से भटकता नजर आ रहा है बल्कि सरकार विरोधी तत्वों का आखड़ा भी बन गया है। हद तो तब हो जाती हैं जब ग्रुप एडमिन द्वारा ऐसे तत्वों के खिलाफ कोई कारवाई नहीं की जाती। आये दिन हो रही सरकार के खिलाफ अर्मादित टिप्पणी से आहत भाजपा के एनजीओं प्रकोष्ठ के गोरखपुर क्षेत्र के सह संयोजक पंकज पाठक ने शुक्रवार को अपर पुलिस अधीक्षक विजयपाल सिंह को शिकायती पत्र देकर बॉसडीह थाना पुलिस के डिजीटल वालंटियर ग्रुप में जुड़े ऐसे अवांछनीय तत्वों के खिलाफ कारवाई की मांग की है।

एएसपी को सौंपे पत्र में भाजपा नेता श्री पाठक ने उल्लेख किया है कि डीजीपी उत्तर प्रदेश ने अपराध पर नियन्त्रण के लिए प्रदेश के सभी थानों को निर्देशित किया था कि आप अपने थाना क्षेत्र के गणमान्य लोगों को लेकर एक डिजिटल वालंटियर वाट्सएप ग्रुप बनाये, ताकि थाना क्षेत्र की प्रत्येक गतिविधियों पर नजर रखी जा सके, और अफवाहों पर विराम लगे कोई अप्रिय घटना न हो। थाना बॉसडीह ने भी एक वाट्सअप ग्रुप बनाया है, लेकिन यह ग्रुप मनोरंजन ग्रुप के साथ ही समाजवादी पार्टी का प्रचार गु्रप बनकर रह गया हैं। ग्रुप में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र भाई मोदी जी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को सम्बोधित गाली का वीडियों वायरल हो रहा है। इस तरह के वीडियों का वायरल करने वाले का मोबाईल नं0 है 9792040337 वीडियों पर थानाध्यक्ष की चुप्पी तथा उसी ग्रुप में एक आडियों मो0 नं0 8127040805 से चल रहा है जिसमें कहा जा रहा है कि सत्ता के नशे में चूर मैनपुरी भाजपा नेता के पुत्र एसएसपी के पीआरओ संजीव यादव को गालिया देते हुए। भाजपा नेता कहना पर उसका नाम न बताना भाजपा को बदनाम करने की योजना है। मो0 नं0 8601646042 से किया गया पोस्ट समाजवादी पार्टी का झण्डा व बैनर ग्रुप की मर्यादा के अनुरूप नहीं है।

वाट्सअप ग्रुप में शामिल लोगों द्वारा गलत वीडियों पोस्ट करना और वो भी थानाध्यक्ष की देख-रेख में उनकी सरकार के प्रति निष्ठा पर प्रश्न लगाता है। इस सम्बंध में पूछे जाने पर एडिशनल एसपी विजयपाल सिंह ने कहा कि मिले शिकायती पत्र में उल्लेखित आरोपों की जांच करायी जा रही है और शीघ्र ही दोषियों के खिलाफ दंडात्मक कारवाई की जायेगी। कहा कि शासन के निर्देशानुसार डिजीटल वालंटियर ग्रुप को बनाने के पीछे शांति में नागरिकों का सहयोग लेना है। यह किसी पार्टी अथवा दल के प्रचार का प्लेटफार्म नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here