विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों को नापसंद करने का मददाताओ को पहली बार मिलेगा अधिकार

0
122

Uttar-Pradesh-Assembly-election-2017
उनाव : विधान सभा चुनाव में पहली बार वोटरों को प्रत्याशियों को ना पसंद करने का अधिकार इस बार के विधान सभा चुनाव में भी मिलने जा रहा है। नोटा का अधिकार नियम लागू होने के बाद सबसे पहले वोटरों ने लोक सभा चुनाव इसका फायदा उठाया था।अब यह पहला मौका होगा जब इस बार विधान सभा के चुनाव में भी वोटरो को इसका अधिकार मिलेगा।

अब राजनैतिक दलो से चुनाव लड़ने वाले विधायक चाहे कितने भी अच्छे चेहरे हो मगर वोटर को यदि पसंद नही आये तो दावेदारो को वोटर नोटा का बटन दबाकर नकार सकेंगे।साथ ही इस बार ईवीएम नोटा का बटन जुड़ जाने से एक प्रत्यासी की सँख्या भी घट जायेगी ईवीएम के बैलट यूनिट में प्रत्याशियों के चुनाव चिन्ह बने होते है। एक बैलट यूनिट में कुल 16 बटन होते है,इसी में अब एक बटन नोटा का भी शामिल रहेगा।जिससे अब ईवीएम के एक बैलट यूनिट में सिर्फ 15 प्रत्याशियों के ही चुनाव चिन्ह होंगे।लेकिन प्रत्याशियों की संख्या यदि इससे अधिक होगी तो बैलट यूनिट बढ़ाई जाएगी।

रिपोर्ट – दुर्गेश सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here