भारत की कड़ी प्रतिक्रिया से घबराया पाकिस्तान, कहा युद्ध कोई विकल्प नहीं

0
23223

दिल्ली – भारत के रणनीतिकारों की तरफ से जारी कड़ी प्रतिक्रिया के बाद आज पाकिस्तान के सुर में काफी बदलाव देखने को मिला है | आज एक संवाद के दौरान भारत में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित के सुरों में काफी परिवर्तन देखने को मिला है | पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान के मध्य समस्याओं का समाधान निकालने के लिए युद्ध कोई मात्र विकल्प नहीं है | दोनों ही देश बिना युद्ध के ही सभी समस्याओं का हल निकाल सकते है |

पाकिस्तान भारत के साथ युद्ध नहीं शांति चाहता है –
आज एक संवाद में भाग लेते हुए पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच किसी भी समस्या का हल निकालने के लिए केवल युद्ध कोई विकल्प नहीं है और न ही पाकिस्तान भारत के साथ किसी भी प्रकार का युद्ध चाहता है | उन्होंने कहा है कि जो लोग मूर्ख होते है वे ही युद्ध की बात करते है | युद्ध कभी भी कोई विकल्प नहीं होता है | गौरतलब है कि दो दिन पहले ही पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रम के जनक डाक्टर एक्यू खान ने पाकिस्तान में पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रम की 18वीं वर्षगाँठ पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि उनके देश के पास इतनी ताकत है कि वह चाहे तो भारत की राजधानी दिल्ली को मात्र 5 मिनट के भीतर बर्बाद कर सकती है | पाकिस्तानी वैज्ञानिक के इस बयान के बाद भारत की तरफ कड़ी प्रतिक्रिया दी गयी थी |

इसे भी पढ़ें – एक ही झटके में पूरे पाकिस्तान को उड़ा सकते है – पूर्व भारतीय सेना प्रमुख

भारत ने भी दिया था मुंह तोड़ जवाब –
पाकिस्तानी वैज्ञानिक एक्यू खान के इस बयान के बाद भारत के रणनीतिकारों ने भी बेहद कड़ी प्रतिक्रिया दी थी | देश कई रणनीतिकारों ने बयान देकर कहा था कि पाकिस्तान केवल दिल्ली को निशाना बना सकता है लेकिन उसे यह नहीं भूलना चाहिए कि भारत के पास इतनी परमाणु ताकत है कि भारत एक ही झटके में पूरे के पूरे पाकिस्तान का सफाया कर सकता है | लेकिन साथ ही साथ भारतीय रणनीतिकारों ने यह भी कहा था कि परमाणु ताकत कभी भी किसी भी देश को बर्बाद करने के लिए या फिर जंग करने के लिए नहीं होनी चाहिए | परमाणु ताकत हमेशा और हमेशा केवल आत्मरक्षा के लिए ही होना चाहिए |

हम भारत के पुनः बातचीत करना चाहते है –
पाकिस्तानी उच्चायुक्त ने बातचीत के दौरान यहाँ कहा है कि पठानकोट हमले को काफी समय बीत गया है और पाकिस्तान उक्त जांच में भारत का पूरा समर्थन कर रहा है | उन्होंने कहा है कि, ‘हम आशा करते है कि जल्द ही भारत और पाकिस्तान के बीच वार्ता पुनः बहाल हो जायेगी और हम अपने सभी मुद्दों को बातचीत से ही हल कर लेंगे |’ अब्दुल बासित ने यह भी कहा है कि आज पाकिस्तान तमाम तरह की समस्याओं के साथ जूझ रहा है और उनसे निकलने का प्रयास कर रहा है | आज भारत और पाकिस्तान को आपसी सामंजस्य, व्यापार आदि को बढाने की आवश्यकता है | दोनों ही देशो को इस पर विचार करना चाहिए |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here