जल संरक्षण की योजनाओं में भारी गड़बड़ी

0
141

प्रतापगढ़(ब्युरो)- चेक डैम निर्माण में अनियमितता तथा गुणवत्ता से खिलवाड़ का टीएसी की जाँच में ख़ुलासा हुआ है । इन योजनाओं में सपा सरकार द्वारा लगभग १८ करोड़ रुपए आए थे । इसके बाद पूर्व सहायक अभियंता पर कार्यवाही हो सकती है।

इसके आगे जनपद के समस्त विकास खंडों में लघु सिंचाई विभाग द्वारा लंबे पैमाने पर सरकारी धन का बंदरबांट किया गया है । इसका एक नमूना विकासखंड मानधाता के एक गांव में लघु सिंचाई विभाग द्वारा मॉडल तालाब के निर्माण में लगभग ढाई या तीन माह लगातार JCB मशीन लगाकर तालाब की खुदाई की गई है ।

जब तक यह बात देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अथवा प्रदेश के ईमानदार कर्मठ मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के संज्ञान में नहीं आएगा तब तक निष्पक्षता प्रतापगढ़ जनपद में जांच होना संभव नहीं है । यह बातें क्षेत्र के कई गणमान्य नागरिकों ने विभागों तक पहुँचायी है । लघु सिंचाई विभाग में आए सरकारी धन का बंदरबांट हो रहा है । इसकी चर्चा क्षेत्र के अलावा पूरे प्रतापगढ़ जनपद में जोरों पर है । जब अखंड भारत न्यूज चैनल के रिपोर्टर अवनीश कुमार मिश्रा के द्वारा मौके पर जाकर देखा गया तो मामला वास्तव में बंदर बांट का लग रहा है । इस प्रकरण की प्रतापगढ़ जनपद में शासन द्वारा इस विभाग में आए सरकारी धन का निष्पक्षता से जांच होना परम आवश्यक है ।

रिपोर्ट- अवनीश कुमार मिश्रा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here