नेता जी सुभाष बोस की मौत का रहस्य खुला, अंग्रेजी वेबसाइट ने जारी किये अंतिम संस्कार के दस्तावेज

0
948

लंदन- नेताजी सुभाष चंद्र बोस के अंतिम दिनों पर प्रकाश डालने के लिए स्थापित की गई ब्रिटेन की एक वेबसाइट bosefiles ने ताइवान के एक अधिकारी द्वारा दिया गया सबूत जारी किया है।इसका दावा है कि उसने 1945 में विमान हादसे में नेताजी की मौत के बाद उनके पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार कराया था।
यह सबूत ‘UK foreign office file number FC 1852..6’ में रखा है और यह 1956 में दिया गया सबूत है । यह उन कुछ अंतिम दस्तावेजों में शामिल है जिन्हें www. bosefiles.info द्वारा जारी किया जाना है ।
वेबसाइट की स्थापना यह साबित करने के लिए की गई है कि महान भारतीय स्वतंत्रा सेनानी की मौत 18 अगस्त 1945 को ताइपेई में एक हवाई पट्टी के बाहर विमान हादसे में हुई थी ।
इसने कहा, ‘‘अन्य स्थानीय अधिकारियों के साथ ताइवानी अधिकारी तान ती-ती, जो उस समय ताइपेई में अंतिम संस्कार की अनुमति प्रदान करने से संबंधि कार्य के प्रभारी थे, ने सुभाष बोस के पार्थिव शरीर के अंतिम संस्कार के बारे में किसी भी विवाद को खारिज किया है ।’’ इस बारे में दशकों से विवाद रहा है कि क्या भारत सरकार की दो जांचों में बोस की मौत की बात कहे जाने के बावजूद विमान हादसे की बात सच है ।
फाइल संकेत करती है कि ब्रिटेन के विदेश विभाग को भेजी गई ताइवान पुलिस की रिपोर्ट में मौजूद सबूत दिल्ली स्थित ब्रिटिश उच्चायोग द्वारा जुलाई 1956 में भारत सरकार को भेजा गया था ।
ताइवान में ब्रिटेन के महावाणिज्य दूत अल्बर्ट फ्रैंकलिन ने 15 मई 1956 को ताइवान सरकार को पत्र लिखकर बोस की मौत की जांच कराने को कहा था ।
जवाब में, ताइवान की प्रांतीय सरकार के अध्यक्ष सीके येन ने 27 जून 1956 को एक विस्तृत पुलिस रिपोर्ट भेजी ।
इसमें तान ती-ती का साक्षात्कार भी था जिसमें कहा गया कि बोस का अंतिम संस्कार 22 अगस्त 1945 को किया गया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here